14 साल के इंतजार के बाद बेनीपट्टी में उपकारा का हुआ उद्घाटन - BNN News

Latest

31 Aug 2019

14 साल के इंतजार के बाद बेनीपट्टी में उपकारा का हुआ उद्घाटन


बेनीपट्टी : करोड़ों रुपए की लागत से निर्मित बेनीपट्टी उपकारा का बहुप्रतीक्षित उद्घाटन शनिवार को हुआ. बिहार सरकार के प्रभारी मंत्री प्रेम कुमार के अनुपस्थिति में पीएचईडी मंत्री विनोद नारायण झा ने उपकारा का उद्घाटन किया. बता दें कि पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के तहत उपकारा का उद्घाटन पीएचईडी मंत्री विनोद नारायण झा के अध्यक्षता में बिहार सरकार के प्रभारी मंत्री प्रेम कुमार के हाथों होना था लेकिन एनडीए द्वारा आयोजित अरुण जेटली की श्रद्धांजली सभा होने के कारण प्रभारी मंत्री समारोह में नहीं पहुंच सके. जिसके कारण मंत्री विनोद नारायण झा के हाथों उपकारा का उद्घाटन हुआ. प्रभारी मंत्री प्रेम कुमार ने अपनी अनुपस्थिति में स्काईप के माध्यम से लोगों को संबोधित किया. उद्घाटन समारोह के दौरान हरलाखी के विधायक सुधांशु शेखर भी मौजूद रहे. 


उद्घाटन समारोह को संबोधित करते हुए बिहार के जेल आईजी मिथिलेश मिश्रा ने कहा कि जब वह बेनीपट्टी के एसडीएम हुआ करते थे तो उस समय के तत्कालीन जेल आईजी बिहार को उन्होंने कई बार विभागीय पत्राचार के माध्यम से बेनीपट्टी उपकारा को शुरू करने के लिए पत्र लिखा लेकिन हर बार कहीं ना कहीं कोई समस्या सामने आ जा रही थी. जिसके कारण उनके चाहने के वाबजूद भी उनके कार्यकाल में जेल का उद्घाटन नहीं हो सका. आगे उन्होंने कहा कि जब वह बिहार के जेल आईजी बनें तो प्रारंभिक प्राथमिकताओं में बेनीपट्टी जेल का उद्घाटन करवाना था. जिसके लिए वह जेल आईजी बनने के बाद से ही प्रकियाएं पूरी करने में लगे हुए थे. पिछले महीने जब अधिकारीयों की ट्रांसफर-पोस्टिंग की बात आई तो उन्होंने जल्द से जल्द बेनीपट्टी उपकारा के उद्घाटन के लिए जेल अधीक्षक प्रेम कुमार की तैनाती की. जिनके जिम्मे जेल के सभी रुके हुए कार्यों का जल्द से जल्द निष्पादन का भार दिया गया था. जिसके कारण आज बेनीपट्टी उपकारा का उद्घाटन संभव हो पाया है. आगे श्री मिश्रा ने अपने पुराने दिनों को याद करते हुए कहा कि आज से ठीक 6 साल पहले 31 अगस्त को हमनें बेनीपट्टी एसडीएम के रूप में पदभार ग्रहण किया था. यहां आने वाले सभी नए पदाधिकारियों के लिए चुनौती के रूप में बेनीपट्टी उपकारा का उद्घाटन भी होता था जो कि मेरे लिए भी था. लेकिन आज बेनीपट्टी उपकारा के उद्घाटन के साथ ही इस चुनौती का अंत हुआ है अब यहां लोग नए संस्थाओं के निर्माण की बात करेंगे, बेनीपट्टी विकास के रास्ते पर आगे जायेगा. 


वहीं बिहार सरकार के पीएचईडी मंत्री विनोद नारायण झा ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि विधायक बनने के बाद मेरा यह ड्रीम प्रोजेक्ट रहा है. लगातार सभी सदनों में हरेक माध्यमों से हमनें बेनीपट्टी उपकारा के लिए सवाल उठाने का काम किया है. लेकिन आज जेल आईजी मिथिलेश मिश्रा के अथक प्रयास से उपकारा का उद्घाटन संभव हुआ है. अपने संबोधन में मंत्री श्री झा ने जेल आईजी मिथिलेश मिश्रा के कामों की जमकर तारीफ़ की वहीं आगे उन्होंने कहा कि उपकारा उद्घाटन के बाद बेनीपट्टी की प्रमुख मांगों में अब एक नगर पंचायत की मांग है जिसके लिए काम किया जाएगा. 



बता दें कि बेनीपट्टी में उपकारा का उद्घाटन होने से लोगों को कानूनी प्रक्रियाओं में काफी सहूलियत मिलेगी. उपकारा का उद्घाटन नहीं होने से सिविल कोर्ट में बेल होने के बाद रिलीज आर्डर रामपट्टी मंडल कारा ले जाना पड़ता था जिसके कारण लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ता था इसके अलावे रामपट्टी मंडल कारा से प्रतिदिन वाहन से सुरक्षित 40 किलोमीटर की दुरी तय कर व्यवहार न्यायालय बेनीपट्टी लाना भी प्रशासन के लिए चुनौतियों से भरा हुआ होता था. इन समस्याओं से खासकर अनुमंडल के नौ थाना क्षेत्र के लोगों को अत्यधिक परेशानी का सामना करना पड़ रहा था जिससे अब लोगों को राहत मिलेगी.

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें