Ticker

6/recent/ticker-posts

सरकारी मोबाईल उठाने से कतराते है बेनीपट्टी के सीओ

Demo Pic


बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेनीपट्टी में सीओ के अफसरशाही से आम लोगों के साथ कई जनप्रतिनिधि त्रस्त है। सीओ के सरकारी मोबाईल पर फोन किए जाने पर मोबाईल नहीं उठाना एक संस्कृति बन गयी है। जिसकी कई शिकायत के बाद भी सीओ  अपने कार्यशैली को बदल नहीं रहे है। जो लोगों के लिए मुसीबत का कारण बन रही है। बसैठ में हुए हादसे की सूचना देने के लिए जब एक मीडिया कर्मी ने सीओ के सरकारी मोबाईल पर कॉल लगाई तो पूरा रिंग होने के बाद भी सीओ ने फोन उठाने की जहमत नहीं दिखाई। कुछ देर के बाद घटना की सूचना एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने एसडीएम को देते हुए घटनास्थल पर सीओ को भेजने की बात कही। घटना के करीब एक घंटा के बाद सीओ अपने दल-बल के साथ बसैठ कूच किए। गौरतलब है कि जिलाधिकारी के स्तर से कई बार अधिकारियों को सरकारी मोबाईल हमेशा ऑन रखने एवं कॉल आने पर जवाब देने का निर्देश जारी किया गया है। इससे एक माह पूर्व भी सीओ के द्वारा सरकारी मोबाईल का स्वीच ऑफ कर मुख्यालय से गायब रहने पर एसडीएम मुकेश रंजन ने सीओ को स्पष्टीकरण करते हुए एक दिन का वेतन धारित करने का पत्र जारी किया था। जिला परिषद् सदस्य खुशबू कुमारी व बसैठ के मुखिया सुनिता चौधरी ने बताया कि सीओ से मोबाईल पर किसी कार्य के लिए बात करना असंभव है। फोन करने पर पूरी बात हुए बिना ही उनके द्वारा फोन काट दिया जाना व कई रिंग होने के बाद भी फोन न उठाना उनकी गलत कार्यशैली का दर्शाता है। पंचायत प्रतिनिधियों ने इस संबंध में जल्द ही वरीय अधिकारी को लिखित शिकायत किए जाने की बात कही है।

Post a comment

0 Comments