बेनीपट्टी(मधुबनी)। इंटरमीडिएट की परीक्षा को कदाचार मुक्त कराने की कवायद शुरु कर दी गयी है। मंगलवार को अनुमंडल कार्यालय के सभागार में एसडीएम मुकेश रंजन के अध्यक्षता में केन्द्राधीक्षक व पुलिस पदाधिकारियों की संयुक्त बैठक हुई। बैठक में एसडीएम ने स्पष्ट रुप से सभी केन्द्राधीक्षक को परीक्षा कदाचार मुक्त कराने का निर्देश देते हुए कहा कि लापरवाही किसी भी स्तर पर नहीं होनी चाहिए। परीक्षा के दौरान पूरा केन्द्र साफ होना चाहिए। सभी परीक्षार्थी को जांच कर ही परीक्षा हॉल में ले जाए। वहीं हर केन्द्र पर सीसीटीवी कैमरा लगा होने की जानकारी केन्द्राधीक्षक को दी गयी। एसडीएम ने कहा कि बैंच-डेस्क आवश्यकता अनुसार व्यवस्था कर ले, ताकि एक बैंच पर निर्धारित परीक्षार्थी से अधिक किसी भी सूरत में न हो। वहीं एसडीपीओ ने पुलिस अधिकारियों व पुलिस बल को ससमय उपस्थित होकर निर्धारित प्वाईंट पर मौजूद होने का सख्त निर्देश जारी किया। एसडीपीओ ने एसएचओ को परीक्षा हॉल के पीछे भी पुलिस बल की प्रतिनियुक्ति के साथ मौजूद रहने का निर्देश दिया। अधिकारियों ने बताया कि पूरे परीक्षा केन्द्र के आसपास धारा-144 लागू की जाएगी। इसका पालन कड़ाई से की जाएगी। इसके लिए पूरे क्षेत्र में गश्ती दल लगातार भ्रमण करेगी। गौरतलब है कि बेनीपट्टी में शांतिपूर्ण इंटर की परीक्षा के लिए छह केन्द्र बनाए गए है। बेनीपट्टी के श्री लीलाधर उच्च विद्यालय, प्रोजेक्ट कन्या विद्यालय, मध्य विद्यालय बेनीपट्टी, डा. एनसी कॉलेज, सुरसरि चन्द्रमुखी महिला कॉलेज व एसएस ज्ञान भारती को परीक्षा केन्द्र बनाए गए है। जहां करीब साढ़े तीन हजार छात्राएं परीक्षा में शामिल होगी। बैठक में एसडीपीओ पुष्कर कुमार, सर्किंल इंस्पेक्टर प्रवीण कुमार मिश्रा, बेनीपट्टी एसएचओ महेन्द्र सिंह, बीईओ मीना कुमारी, श्री लीलाधर उच्च विद्यालय के प्रभारी एचएम अशोक कुमार, मध्य विद्यालय के श्रीपति झा, प्राचार्य भवानंद झा, प्राचार्य कमलेश्वर ठाकुर समेत अन्य थानों के एसएचओ मौजूद थे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post