Ticker

6/recent/ticker-posts

एसडीएम के जांच में खुली जमींदारी बांध के मरम्मती कार्य की पोल, नदी के बालू से हुई मरम्मती

बेनीपट्टी(मधुबनी)। जल संसाधन विभाग की ओर से प्रखंड के बाढ़ग्रस्त पंचायतों के क्षतिग्रस्त जमींदारी बांध के मरम्मती में भारी पैमाने पर हो रही अनियमितता की खबर प्रकाशित होने के बाद हरकत में आयी अनुमंडल प्रशासन ने रविवार को बेनीपट्टी अंचलाधिकारी पुरेन्द्र कुमार सिंह के साथ प्रखंड के करहारा पंचायत के बांध मरम्मती का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान करहारा के सभी महत्वपूर्ण बांधों पर धौंस नदी के किनारे के तट के बालू युक्त मिट्टी से मरम्मती कर दिए जाने की पोल खुल गई। एसडीएम ने करीब चार घंटो तक विभिन्न गांव के बाढ़ सुरक्षा के नाम पर मरम्मती हुए बांधो का जायजा लिया। ग्रामीणों ने संबेदक की ओर से भारी पैमाने पर हुए गड़बड़ी के संदर्भ में अधिकारियों को जानकारी दी। वहीं संबेदक के कर्मी की ओर से मिट्टी काटने के दौरान एक भारी चूक का भी खुलासा हुआ है। संबेदक की ओर से धौंस नदी के समीप से भारी गड्ढा कर बालू युक्त मिट्टी काट लिया गया है। ग्रामीणों की माने तो मिट्टी काटने के वजह से बाढ़ आने पर आवासीय क्षेत्र में पानी प्रवेश कर जाएगा। नदी के मुहाने को उंचा कर पानी को बाहरी क्षेत्र में रखा जाता था। मिट्टी काटने के कारण अब पूरा भाग समतल हो गया। जिससे नदी का जलस्तर बढ़ने पर ही गांव में पानी प्रवेश कर जाएगा। वहीं ग्रामीणों ने बताया कि, ऐसी स्थिति में बाढ़ आयी तो महाप्रलय हो जाएगा। उधर, एसडीएम ने पूरे बांध पर पांव-पैदल तो कभी बाईक पर चढ़कर बांध के मरम्मती का जायजा लिया। इस दौरान बांध के बालू का वीडियोग्राफी भी कराई गई है। सूत्रों की माने तो मिट्टी का पैसा बचाने के लिए संबेदक की ओर से भारी गड़बड़ी की गई है। बघार के खेत व सरकारी जमीन से बिना अनुमति के मिट्टी काट कर अंजान जगहों पर गहरा गड्ढा कर दिया है। जहां बारिश के मौसम में चरवाहों के डूबने की आशंका बन गई है। वहीं करहारा के कोन्हा गाछी के समीप तो संबेदक ने हद ही पार कर दी है। संबेदक ने धौंस नदी के तट के सुरक्षात्मक मिट्टी को काट दिया है। जिससे पूरे गांव पर खतरा उत्पन्न हो जाएगा। एसडीएम मुकेश रंजन ने बताया कि पूरे बांध का निरीक्षण कर रिपोर्ट जिलाधिकारी को भेजी जाएगी। वहां से प्राप्त दिशा-निर्देश पर अग्रेतर कार्रवाई की जाएगी। वहीं एसडीएम ने सरकारी जमीन से अवैध रुप से मिट्टी काटने पर सीओ को अग्रेतर कार्रवाई करने का निर्देश दिया है।

Post a Comment

0 Comments