बेनीपट्टी(मधुबनी)। विवाहिता को अपने मायके से दहेज में बाईक व व्यवसाय के लिए एक लाख नहीं लाने पर पति ने छोड़ कर दूसरी शादी कर ली है। मामला, बेनीपट्टी थाना क्षेत्र के छोलकाढ़ा गांव का है। इस संबंध में विवाहिता चांदनी कुमारी ने बेनीपट्टी थाना में अपने पति सुशील मुखिया, सुधीर मुखिया, गोविन्द मुखिया, सुखदेव मुखिया, रामदुलारी देवी, रिंकू देवी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। पुलिस मामले की छानबीन में जुट गई है। विवाहिता ने बताया कि उसकी शादी वर्ष-2016 के अप्रैल माह में हिन्दू रीति-रिवाज के अनुसार दान-दहेज देकर की गई थी। उनके पिता ने यथासंभव दान किया। ससुराल जाने के बाद पति समेत अन्य आरोपियों ने बिछावन समेत अन्य खर्च के लिए एक लाख रुपये , पति के व्यवसाय के लिए एक लाख रुपये एवं एक बाईक की मांग करने लगे। वादिनी ने बताया कि इसकी जानकारी पिता को दी गई तो वे असमर्थतता जताने लगे। पति को कहने पर सभी आरोपी एकजुट होकर प्रताड़ित करने लगे। आरोपियों ने कहा कि, जब दहेज नहीं लाओगी, तो दूसरी शादी करा देंगे। वादिनी ने बताया कि आरोपियों ने इसी बीच घर में खाना-पीना बंद कर मारपीट करने लगे। वहीं पीड़िता ने बताया कि गत 24 अप्रैल को मध्य रात्रि सभी आरोपी दूसरी शादी की बात करने लगे। इसी दौरान मेरे ससुराल से सास व ननद को छोड़ कर सभी गायब हो गए। अगले दिन सभी  आ गए, लेकिन मेरे पति नहीं आए। कुछ दिनों के बाद मेरे पति आए तो उनके हाथ-पैर पर रंग लगा हुआ था। तब जानकारी मिली की मेरे पति दहेज नहीं लाने के कारण सीतामढ़ी जिले के डुमरा गांव के बछारपुर गांव के जयलाल मुखिया के पुत्री रानी देवी से दूसरी शादी कर ली। पीड़िता ने बताया कि 12 मई के मध्य रात्रि सभी आरोपी जान से मारने के नियत से शरीर पर किरासन तेल छिड़क कर मारने का प्रयास किया। इसी बीच मेरे पति से सलाई की मांग की तो मेरी नींद टूट गई। जिसके बाद हल्ला किया तो अन्य ग्रामीण आए, जिसके बाद मेरी जान बच सकी। इस संबंध में एसएचओ सह पुलिस निरीक्षक हरेराम साह ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर अनुसंधानकर्ता मामले की विवेचना कर रहे है। दोषियों के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post