Ticker

6/recent/ticker-posts

स्कॉट कर शराब तस्करी कराते कस्टम हवलदार को पुलिस ने किया गिरफ्तार

बेनीपट्टी (मधुबनी)। बिहार में लागू शराबबंदी के बाद शराब तस्करी में सफेदपोश के साथ सरकारी महकमा के कर्मी भी लिप्त हो रहे है। ऐसे कर्मी अपना दायित्व को त्याग कर शराब की तस्करी कर अवैध कमाई कर रहे है। नेपाल से हरलाखी होते हुए शराब की तस्करी कराते हुए कस्टम विभाग के हवलदार व हरलाखी थाना के चौकीदार 806 बोतल शराब के साथ गिरफ्तार हुआ है। ग्रामीणों के सहयोग से साहरघाट पुलिस ने शराब से लदे सूमो को जब्त कर कस्टम के हवलदार का बुलेट बाईक भी जब्त कर लिया है। सूत्रों की माने तो कस्टम का हवलदार राजवीर सिंह शराबबंदी कानून का लाभ लेते हुए तस्करों के साथ मिलीभगत कर नेपाल से शराब मंगा कर सूबे के अन्य जिलों में सप्लाई करने का काम करता था। जिसमें हरलाखी थाना का चौकीदार भरत पासवान उसका सहयोग करता था। गुरुवार की रात सूमो पर 22 कार्टून सौंफी शराब , 375 एमएल का 136 बोतल विदेशी शराव व 180 एमएल का 88 बोतल शराब लादकर तस्करी के लिए भेजा जा रहा था। शराब से लदे वाहन को कस्टम विभाग के हवलदार राजवीर सिंह अपने बुलेट से स्कॉट कर रहा था। वहीं चौकीदार उक्त सूमो में बैठा हुआ था। जानकारी के अनुसार सूमो से शराब की तस्करी होने की सूचना नवटोली के ग्रामीणों को लग गयी थी। जिसका ग्रामीण विरोध कर रहे थे। इसी खींचतान में सूमो खेत में पलट गयी। जहां से सूमो का चालक समेत अन्य सवार लोग फरार हो गए। जानकारी के अनुसार उक्त सूमो में दो अन्य लोग सवार थे। उधर वाहन के पलटते ही साहरघाट पुलिस मौके पर पहुंच कर वाहन को जब्त कर कस्टम के हवलदार व चौकीदार को गिरफ्तार कर लिया। साहरघाट थाना पर आयोजित प्रेस वार्ता को संबोधित करते हुए एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने बताया कि कस्टम का हवलदार हरलाखी थाना के चौकीदार के सहयोग से शराब की तस्करी कर रहा था। जिसे गिरफ्तार कर लिया गया है। उधर पिपरौन कस्टम अधीक्षक मो. नूर अख्तर ने कस्टम के हवलदार के गिरफ्तारी होने की पुष्टि करते हुए बताया कि उक्त हवलदार के खिलाफ विधि-सम्मति कार्रवाई की जाएगी। वहीं साहरघाट के एसएचओ प्रेमलाल पासवान ने बताया कि शराब बरामदगी के मामले में प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है। उधर हरलाखी थाना के चौकीदार के खिलाफ विभागीय कार्रवाई की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गयी है।

Post a comment

0 Comments