राशि निकासी के बाद भी नहीं पूर्ण हुआ अंधरी उत्क्रमित मध्य विद्यालय का भवन - BNN News

Breaking

14 Mar 2018

राशि निकासी के बाद भी नहीं पूर्ण हुआ अंधरी उत्क्रमित मध्य विद्यालय का भवन

बेनीपट्टी (मधुबनी)। स्कूल भवन की राशि निकासी के बाद भी भवन का निर्माण नहीं कराया गया है। प्रखंड के अंधरी स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय के दो कमरों के निर्माण के लिए विभाग से आवंटित करीब तेरह लाख में से 12 लाख की राशि निकासी होने के बाद भी निर्माण अधर में लटका हुआ है। स्कूल के वर्तमान एचएम ने बताया कि उक्त भवन के निर्माण के लिए विभाग से आवंटित राशि में अधिक निकासी हो चुकी है। पूर्व के एचएम के निधन होने के बाद विभाग को इस बावत पत्राचार किया जा चुका है। बावजूद अब तक कोई कार्रवाई नहीं हो पायी। प्रभारी ने बताया कि विभाग से आवंटित राशि के बाद भी न तो भवन का प्लास्टर हो पाया है ओर न ही फर्श की पक्कीकरण कराया गया। वहीं खिड़की-दरबाजा नहीं होने के कारण बारिश के समय में भारी परेशानी होती है। वहीं प्रभारी ने स्कूल में चापाकल समेत अन्य संसाधन की घोर कमी की बात बतायी। जानकारी दें कि गंगूली के उत्क्रमित मध्य विद्यालय में फिलहाल 630 छात्र-छात्राएं नामांकित है। जिन्हें शिक्षा देने के लिए महज पांच शिक्षक ही तैनात किए गये है। स्कूल में चावल के अभाव के कारण दो दिनों से एमडीएम बंद होने के बावजूद छात्रों की संख्या अधिक थी। वहीं छात्रों ने विद्यालय में शैक्षणिक स्तर में गिरावट होने की बात कही। वहीं छात्रों ने बताया कि इतने सारे छात्रों के लिए न तो शौचालय की सुविधा है, न ही चापाकल। एक चापाकल से ही काम करना पड़ता है। जहां अधिकतर एमडीएम के लिए रसोईया काम करती रहती है। वहीं सूत्रों की माने तो स्कूल के विकास के लिए हर वर्ष आवंटित विकास मद की राशि का लगातार कागजों पर ही उठाव कर अनियमितता की जा रही है। स्कूल के एचएम सुरेन्द्र पासवान ने बताया कि इस वर्ष विकास मद की राशि से कुछ जगहों पर दिवाल की मरम्मति कराई गयी है। संसाधन के संबंध में विभाग को पत्राचार किया जा चुका है। उधर सर्व शिक्षा के जेई सुनील भगत ने बताया कि भवन के लिए आवंटित राशि में अधिक की निकासी हो गयी है। वहीं पूर्व प्रभारी के निधन होने के बाद भवन अधूरा ही रह गया। इसी बीच पूर्व प्रभारी के पुत्र को कई बार राशि वापस करने अथवा भवन का निर्माण पूर्ण कराने की बात कही गयी, लेकिन अब तक कोई पहल नहीं हो पाया। उधर भवन के निर्माण कार्य अधूरा रहने पर जेई ने शिक्षा पदाधिकारियों पर भी प्रश्नचिन्ह् लगाया है। बताया कि बिना एनओसी के राशि निकासी होने दिया गया।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें