तीन नियमित शिक्षक के बावजूद नियोजित जमे है प्रभारी के कुर्सी पर - BNN News

Breaking

11 Mar 2018

तीन नियमित शिक्षक के बावजूद नियोजित जमे है प्रभारी के कुर्सी पर

बेनीपट्टी (मधुबनी)। शिक्षा विभाग के निर्देश के बावजूद बेनीपट्टी में नियोजित शिक्षकों को विद्यालय के प्रभार का भार दिया जा रहा है। जबकि विद्यालय में नियमित शिक्षक के तैनाती होने पर नियमित शिक्षक को ही प्रभार देने का निर्देश शिक्षा विभाग ने कई बार जारी किया है। सूत्रों की माने तो नियोजित शिक्षक अधिकारियों के विशेष कृपा पर प्रभारी बन रहे है। प्रखंड के बनकट्टा स्थित मध्य विद्यालय का हाल भी कुछ ऐसा ही है। जहां पूर्व से ही तीन-तीन नियमित शिक्षकों के उपस्थिति के बाद भी विभाग ने नियोजित शिक्षिका को प्रभारी के पद पर प्रतिनियुक्त कर दिया है। हालांकि, नियमित शिक्षक अपने बीमारी अथवा अन्य कोई समस्या लेकर प्रभारी नहीं बनने की बात कहते नजर आए। लेकिन, इस सब के बाद भी कही न कही विभाग के निर्देश की धज्जियां उड़ायी जा रही है। गौरतलब है कि बनकट्टा मध्य विद्यालय में फिलहाल 761 छात्र व छात्राएं नामांकित है। जिन्हें शिक्षा देने के लिए विभाग की ओर से 13 शिक्षकों की फौज खड़ी की गयी है। वहीं एक शिक्षक के प्रशिक्ष में जाने के कारण प्रभारी समेत एक दर्जन शिक्षक मौजूद होते है। बावजूद विद्यालय के शैक्षणिक स्तर में लगातार गिरावट आ रही है। वर्ग छह के छात्र आकाश कुमार से जब देश के राष्ट्रपति, उपराष्ट्रति एवं बिहार के राज्यपाल के नाम पूछा गया तो आकाश कुमार ने एक भी जवाब नहीं दिया। जिससे विद्यालय के शैक्षणिक स्तर का अंदाजा लगाना सहज है। वहीं स्कूल में कमरों के अभाव के कारण छात्र खासे परेशान हो रहे है। शैक्षणिक योग्य आधा दर्जन कमरों के बाद भी छात्र बरामदें पर बैठ कर पढ़ाई के लिए विवश बने हुए है। स्कूल के प्रभारी एचएम उषा कुमारी ने बताया कि तीनों नियमित शिक्षक प्रभारी नहीं बनना चाहते है।  ऐसी स्थिति में उन्हें प्रभार दिया गया। वहीं प्रभारी ने बताया कि छात्र-छात्राओं के संख्या के हिसाब में कमरा का निर्माण नहीं हो पाया है। जिसके कारण छात्रों को परेशानी होती है। कमरा के कमी एवं संसाधन की कमी को लेकर विभाग को कई बार पत्राचार किया जा चुका है।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें