टेंडर नहीं होने से पाली-कमतौल सड़क का नहीं हुआ निर्माण - BNN News

Latest

10 Mar 2018

टेंडर नहीं होने से पाली-कमतौल सड़क का नहीं हुआ निर्माण

बेनीपट्टी (मधुबनी)। पाली एसएच-52 पथ से दक्षिण पाली गोट की ओर आवाजाही करने के एकमात्र जर्जर सड़क का टेंडर नहीं होने के कारण निर्माण की पहल नहीं हो रही है। विभाग के द्वारा सड़क के निर्माण के लिए दो बार निविदा निकाली गयी, लेकिन सड़क की निविदा नहीं डाली जा सकी। सूत्रों की माने तो सड़क के निर्माण की योजना के बजाय उक्त सड़क की मरम्मत कराने की योजना एमआर योजना के तहत प्रस्तावित है। जबकि सड़क पूर्णरुप से जर्जर हो चुकी है। ऐसे में सड़क के मरम्मत की योजना धरातल पर कारगर साबित नहीं हो सकती है। उधर, विभागीय पेंच में फंसे उक्त सड़क के निर्माण के लिए टेंडर की प्रक्रिया में होने के कारण संभवतः सड़क का निर्माण बारिश से पूर्व नहीं कराई जा सकती है। ऐसे में बारिश में सड़क की स्थिति नारकीय होने एवं आवागमन अवरुद्ध होने की संभावन बन गयी है। बीजेपी नेता रौशन मिश्रा ने बताया कि सड़क के निर्माण बारिश से पूर्व नहीं होने पर आवागमन बंद की स्थिति में हो जाएगा। स्थानीय लोगों की आवाजाही मुख्य पथ से भंग हो जाएगी। जानकारी दें कि पाली चौक से करीब आधा किमी सड़क पूर्व से ही काफी जर्जर अवस्था में है। वहीं गत पांच माह पूर्व आए बाढ़ में उक्त सड़क पूर्णरुप से क्षतिग्रस्त हो गया। सड़क की स्थिति इस कदर खराब है कि सड़क पर भारी वाहन तो दूर बाईक से भी आवाजाही करने में परेशानी होती है। वहीं इस दौरान कई बाईक सवार दुर्घटना का शिकार हो चुके है। बाढ़ के पानी कम होने के बाद विभाग की ओर से किए गये मोटरेबुल कार्य के बाद मिट्टी जगह-जगह धंस जाने से पथ की स्थिति असमान्य हो गयी है। जानकारी दें कि उक्त पथ का निर्माण करीब सात वर्ष पूर्व नाबार्ड योजना के तहत कराई गयी थी। परंतु सड़क की मापी के दौरान करीब आधा किमी की दूरी की मापी नहीं होने के कारण उक्त समय सड़क का निर्माण नहीं हो पाया था। जो सबसे अधिक परेशानी का कारण बना हुआ है। इस संबंध में पूछे जाने पर ग्रामीण कार्य विभाग के कार्यपालक अभियंता अनिल कुमार ने बताया कि सड़क के निर्माण के लिए विभाग लगातार प्रयासरत है। बेनीपट्टी डिविजन में दर्जनों सड़कों के निर्माण के लिए स्वीकृति दी जा चुकी है। सभी सड़कों के निर्माण के लिए विभाग कार्य कर रही है।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें