Ticker

6/recent/ticker-posts

मिथिला कप में ठिकहा ने दरभंगा के यंग क्रिकेट क्लब को हरा जीता कप

बेनीपट्टी(मधुबनी)।  खेल से न सिर्फ हमारे शरीर विकास होता है, बल्कि हमारे मानसिकता को भी सशक्त बनाकर बौद्धिक क्षमता का विस्तार करता है। उक्त बातें पटना एम्स के चिकित्सक सह युगांतर ट्रस्ट के ट्रस्टी डॉ रविकीर्ति ने कही। शिवनगर स्थित क्रिकेट मैदान पर  ट्रस्ट द्वारा आयोजित मिथिला कप के फाइनल मैच के पुरस्कार वितरण के दौरान बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे। अतिथियों को सत्कार सम्मान के लिए अध्यक्ष विनोद शंकर, सचिव समीर , कोषाध्यक्ष अक्षय सहित तमाम ग्रामीणों का आभार व्यक्त किया। उन्होनें कहा कि ग्रामीण क्षेत्र में इस तरह का आयोजन होना चाहिए। वहीं एलएनएमयू के इतिहास के विभागाध्यक्ष डा. अयोध्यानाथ झा ने आयोजन समिति की भूरि भूरि प्रशंसा की। शिवनगर में खेले जा रहे मिथिला कप के फाइनल मुकाबला में ठिकहा सीतामढ़ी ने यंग क्लब दरभंगा को 6 विकेट से हराकर खिताब पर कब्जा जमाया । राष्ट्रगाण के बाद चॉदी के सिक्के से हुए टॉस में दरभंगा ने बाजी मारकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया ,लेकिन जब निर्धारित 20 ओवर में आठ विकेट पर मात्र 116 रन ठिकहा , सीतामढ़ी के लिए आसान लक्ष्य देकर गेंदबाजी के लिए उतरी यंग टीम दरभंगा इस क्षेत्र में भी ठिकहा सीतामढ़ी के सामने फिसड्डी साबित हुई। ठिकहा के बल्लेबाज संजीत कुमार ने मैच को एकतरफा बनाकर महज 11.3 ओवर में ही 6 विकेट से जीत लिया। इनके ताबड़-तोड़ बैटिंग के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरस्कार के रूप में टेनिस क्रिकेट किट दिया गया । वहीं ठिकहा के ही गेंदबाज गोलू राम को टूर्नामेंट के बेस्ट बॉलर, दरभंगा के कप्तान मणिशेखर को बेस्ट फील्डर एवं दरभंगा के ही बल्लेबाज अभय को बेस्ट बैट्समैन के रूप में कैरमबोर्ड, कप एवं प्रशस्ति पत्र से नवाजा गया।  पूरे टूर्नामेंट में 111 रन 11 विकेट लेकर ऑलराउण्ड प्रदर्शन करने वाले दरभंगा के ऑलराउण्डर अभय को मैन ऑफ द सीरीज के रूप में रेंजर साइकिल दिया गया। समारोह के अंत में उपविजेता टीम के कप्तान मणिशेखर को ट्रस्ट के ट्रस्टी डॉ रवीकीर्ति ने एलईडी टीवी का रिमोट तथा साहित्यकार विभूति आनन्द ने रनर कप देकर सम्मानित किया। वहीं विनर टीम के कप्तान आफताब को डॉ अयोध्या नाथ झा एवं  अधिवक्ता रामचन्द्र लाल दास ने संयुक्त रूप से ग्लैमर बाईक की चाबी और कप देकर पुरस्कृत किया।

Post a comment

0 Comments