Ticker

6/recent/ticker-posts

इंसाफ के लिए दर-दर भटक रही गुलशन

बेनीपट्टी(मधुबनी)। आज पुरा विश्व अंतराष्ट्रीय महिला दिवस मना रही है।लेकिन इन दिवस के बीच हम आज आपको एक ऐसी महिला की खबर सामने ला रहा हूं, जो करीब पांच महीने से अपनी बेटी की हत्यारों को सजा दिलाने के लिए दर-दर की ठोकरे खाने को मजबूर है।बेनीपट्टी की गुलश्न खातुन की बेटी उल्फत प्रवीण की हत्या करीब पांच माह पूर्व उसके पति व उसके सहयोगियों ने मुंबई के नालासोपारा में ले जाकर कर दिया।आरोपियों ने उल्फत प्रवीण का अपहरण कर किरासन तेल डालकर जला दिया।जानकारों की माने तो मृतका उल्फत प्रवीण ने मौत के समय मजिस्ट्रेट के समक्ष अपने पति मो. शमीम अख्तर सहित चार सहयोगियों के खिलाफ बयान दिया।उक्त समय पुलिस ने कांड संख्या-133/16 दर्ज कर अनुसंधान शुरु कर दिया।मृतका का पोस्टमार्टम रिपोर्ट भी आयी।पुलिस ने मुंबई से उसके पति को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में भेज दिया।अब शेष आरोपी की ओर से वादी को केस उठाने की धमकी दी जा रही है।उधर गुलशन खातुन ने पुलिस महकमा पर ही सवाल उठाते हुए विभाग के वरीय अधिकारी को पत्र देकर उक्त कांड में से दर्ज आरोपी को केस पर्यवेक्षण में नाम हटाने की साजिश की शिकायत की है।गुलशन खातुन ने अपने आवेदन में बताया है कि कांड संख्या-133/16 में आरोपी के प्रभाव में आकर नाम हटाने की पूरी संभावना है।पुलिस अधिकारियों की माने तो कांड संख्या-133/16 में मृतका के पति के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल कर दिये गये है।शेष अन्य आरोपियों के खिलाफ जांच की जा रही है।

Post a comment

0 Comments