रहस्मय तरीके से हो रही बसैठ के रिंग बांध की मरम्मत - BNN News

Breaking

4 Mar 2018

रहस्मय तरीके से हो रही बसैठ के रिंग बांध की मरम्मत

बेनीपट्टी (मधुबनी)। बसैठ के रिंग बांध की मरम्मति कार्य रहस्मय तरीके से कराई जा रही है। कार्य स्थल पर न तो कोई विभागीय अधिकारी ही होते है, ओर न ही कोई संबेदक का कर्मी। बांध की मरम्मति किस योजना से कराई जा रही है, इसकी न तो बोर्ड लगाई गयी है,  न ही कोई जवाब देने वाला है। कार्य स्थल पर प्रतिनियुक्त व्यक्ति ने बताया कि उन्हें सिर्फ मिट्टी भराई वाले टै्रक्टर को कूपन काट कर देना है। इसके अलावे उनके जिम्मे में कुछ भी नहीं है। उधर ग्रामीण सूत्रों की माने तो रिंग बांध के क्षतिग्रस्त भाग को पाटने के लिए खेती के लिए उपयुक्त मिट्टी को बर्बाद किया जा रहा है। सूत्रों ने बताया कि बांध की मरम्मत मनमाने तरीके से कराई जा रही है। गौरतलब है कि प्रति वर्ष बांध के मरम्मत के नाम पर लाखों-करोड़ों का वारा-न्यारा संबंधित कर्मियों के द्वारा किया जाता है। जिसके कारण प्रत्येक बाढ़ में बांध भारी पैमाने पर ध्वस्त होते है। लोजपा के प्रखंड अध्यक्ष सुनील कुमार झा, महादलित नेता रामवरण राम, पवन भारती , छात्र नेता चंदन सिंह समेत कई लोगों ने बताया कि बांध के नाम पर लूट की जा रही है। प्रशासन को बांध मरम्मति की पूर्ण जानकारी लेकर जांच करना चाहिए। वहीं नेताओं ने बताया कि जल्द ही बांध मरम्मति के नाम पर हो रही लूट की जांच नहीं हुई तो आन्दोलन किया जाएगा। गौरतलब है कि इन दिनों बसैठ के सीता मुरलीधर उच्च विद्यालय के समीप गत पांच माह पूर्व आए बाढ़ में ध्वस्त रिंग बांध की मरम्मत कराई जा रही है। उक्त बांध के करीब दो सौ फीट की दूरी में कटाव होने के कारण बांध दो भागों में विभक्त हो गयी है। उक्त बांध पर किस योजना व कितने राशि की मरम्मति कराई जा रही है। इस संबंध में जानकारी देने के लिए कोई भी कर्मी व अधिकारी सामने नहीं आ रहे है। जिसके कारण उक्त बांध की मरम्मति कार्य रहस्मय प्रतीत हो रहा है। इस संबंध में पूछे जाने पर एसडीएम मुकेश रंजन ने बताया कि बांध मरम्मति के संबंध में जानकारी ली जा रही है। जानकारी होने पर कुछ विशेष पक्ष दी जा सकती है।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें