बेनीपट्टी(मधुबनी)। कारगिल विजय दिवस के अवसर पर मंगलवार को बेनीपट्टी स्थित पोस्ट ऑफिस के नजदीक शहीद भवन में केवाईसी व लेट्स इंस्पायर बिहार के द्वारा मां भारती के चरणो में अपने सर की बलि चढ़ा दिए शहीदों की याद में उन्हें आज श्रद्धांजलि अर्पित किया गया। प्रसिद्ध चिकित्सक डॉक्टर पीआर सुल्तानिया ने पुष्प गुच्छ समर्पित कर उन जवानों को याद किया कहा हमें गर्व है उस मां पर जिसके पुत्र ने तिरंगे के लिए अपनी जान को कुर्बान कर दिया धन्य है वह पुत्र जिसने मां भारती के लिए अपनी जान को निछावर किया उनको मैं सेल्यूट करता हूं।

1

उनके त्याग बलिदान सदा पूजनीय अस्मरणीय रहेगी।

पूर्व सैनिक अशोक झा ने शहीदों को याद करते हुए कहा जिस शहीद भवन में आज यह कार्यक्रम हुआ है जो युवाओं के लिए एक प्रेरणा है इस शहीद भवन को कैसे रखना है । कैसे सवारना है क्या उपयोग हो सकता है। इसके बारे में सोचने की आवश्यकता है जो लोग देश के लिए अपना जान न्योछावर करने को तैयार है उसके लिए देश के हर व्यक्ति को आगे आने की जरूरत है । भारतीय सेना ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा बड़ी से बड़ी युद्ध को कम संसाधन होते हुए भी विजय हासिल किया है।

2

सफलता पाई है। ग्लेसियर  के अंदर पैर जम जाते हैं बॉडी जम जाती है। अगर सब एक दूसरे का हाथ ना पकड़ के चले तो बर्फ के अंदर ही सैनिक दवे रह जाएंगे लेकिन अपनी जान की परवाह किए बिना देश के लिए समर्पित रहना सैनिक का प्रथम कर्तव्य होता है ।

हमारे देश का युवा हमारे रीढ़ है, नशे से दूर रहकर सभी युवाओं को देश को आगे बढ़ाने में अपनी महत्वपूर्ण भूमिका निभाने की आवश्यकता है ।

वही कार्यक्रम के संचालक पंकज कुमार झा ने कहां आज के श्रद्धांजलि सभा का आयोजन हर वर्ष की भांति इस बार भी हुआ है लेकिन इस सभा अपने उचित स्थान पर की गई है यह श्रद्धांजलि सभा शहीद भवन में एक शाम शहीदों के नाम पर आयोजित की गई है।

कारगिल विजय दिवस स्वतंत्र भारत के सभी देशवासियों के लिए एक बहुत ही महत्वपूर्ण दिवस है। भारत में प्रत्येक वर्ष 26 जुलाई को यह दिवस मनाया जाता है। इस दिन भारत और पाकिस्तान की सेनाओं के बीच वर्ष 1999 में कारगिल युद्ध हुआ था जो लगभग 60 दिनों तक चला और 26 जुलाई के दिन उसका अंत हुआ और इसमें भारत विजय हुआ। कारगिल विजय दिवस युद्ध में शहीद हुए भारतीय जवानों के सम्मान हेतु यह दिवस मनाया जाता है। इस कार्यक्रम में सैकड़ों की संख्या में युवाओं ने हिस्सा लिया पुष्प गुच्छ व कैंडल के द्वारा शहीदों को श्रद्धांजलि अर्पित किया मौके पर स्थानीय समाजसेवी दिलीप झा, रंजन गुप्ता ,राहुल झा,आर गणेश मुकेश गिरी महफूज आलम, सुभाष, रोहित रनर, रंजन झा, अमित अन्य लोग उपस्थित रहे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here



ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post