बेनीपट्टी(मधुबनी)। सड़क निर्माण में अनियमितता का पहचान बनकर रह गया है उगना चौक से निर्मित अकौर पथ। सड़क पर इस कदर गढ्ढे हो गए है कि कब कोई बड़ी दुर्घटना हो जाये, कहना मुश्किल हो गया है। इस पथ से कई स्कूली बस के साथ कई यात्री वाहनों का परिचालन होता है। सड़क के जर्जरता की जानकारी के बाद भी विभाग कुम्भकर्णी निद्रा में है। जिससे लोगों का रोष धीरे धीरे पनप रहा है।


बुधवार को देपुरा पहुँचे पूर्व मंत्री सह बेनीपट्टी के भाजपा विधायक विनोद नारायण झा को देपुरा के समाजसेवी पप्पू झा व स्थानीय ग्रामीणों ने संयुक्त हस्ताक्षरित आवेदन देकर योजना की जांच कराने व दोषियों पर कार्रवाई के संबंध में ज्ञापन सौंपा। विधायक ने उक्त ज्ञापन को गंभीरता से लेते हुए विभागीय वरीय अधिकारी को देने की बात कही। ग्रामीण सड़क के जर्जर स्थिति को देख काफी आक्रोशित थे।


बता दे कि उक्त पथ का निर्माण एमआर योजना के तहत करीब चार वर्ष पूर्व एक करोड़ 98 लाख के लागत से कराई गई थी। निर्माण में कथित तौर पर अनियमितता की गई थी। पप्पू झा ने बताया कि निर्माण के दो-तीन महीने के बाद ही पीसीसी पथ उखड़ने लगा। जिस पर अलकतरा डाल दिया गया, लेकिन, अलकतरा के साफ होते ही पूरा सड़क क्षतिग्रस्त हो गया, मानो, सड़क दस-बीस वर्ष पूर्व बना हो। गौरतलब है कि सरिसब के रत्ना चौक के निकट सड़क इस कदर टूट गयी है कि उक्त गढ्ढे में घुटने भर पानी का जमाव हो जाता है। जबकि, अन्य जगहों पर भी सड़क की स्थिति काफी दयनीय है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here



ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post