बेनीपट्टी(मधुबनी)। देश स्तर पर बिहार के विकास मॉडल की चर्चा हो रही है। नीतीश कुमार की छवि व आरसीपी सिंह के मार्गदर्शन में असम विधानसभा के चुनाव में जदयू उम्मीदवारों की स्थिति बेहतर है। पचास क्षेत्रों में चुनाव लड़ रहे जदयू उम्मीदवारों मे अधिकांश उम्मीदवार सीधी लड़ाई मे है जो पार्टी के लिए सुखद संयोग है। जदयू के उत्तर पूर्व प्रदेशों के प्रभारी व झंझारपुर एमपी आरपी मंडल ने पत्रकारों को उपरोक्त बातों की जानकारी देते हुए कहा कि एक सप्ताह से लगातार उनके साथ असम के जदयू नेताओं की टीम के द्वारा लगातार चुनाव अभियान  चलाया जा रहा है और हिंदी भाषी क्षेत्रों एवं आदिवासी समाज के बीच जदयू उम्मीदवारों की स्थिति बेहतर है। सांसद ने बताया कि नया गांव जिला के ढिंग विधानसभा से जदयू उम्मीदवार शहनाज बेगम, वाटाटोरवा से अनुपम बरूआ, कांटीडीह से मुन्नून डोरी जैसे अधिकांश उम्मीदवार सीधी लड़ाई मे बने हुए हैं तथा पार्टी नेता नीतीश कुमार, राष्ट्रीय अध्यक्ष आरसीपी सिंह जैसे नेताओं के प्रचार मे जाने के बाद लड़ाई की तस्वीर जदयू के पक्ष में गोलबंद हो जायेगी। जदयू सांसद ने बताया कि पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के निर्देश पर वे मणिपुर, अरूणाचल प्रदेश, मिजोरम, असम सहित उत्तर पूर्व के राज्यों में जदयू संगठन को विस्तार देने मे लगे हुए हैं और मणिपुर असम में जदयू इन चुनावों में अपनी महत्वपूर्ण उपस्थिति दर्ज करायेगी। जदयू सांसद ने बताया कि पहले चरण के चुनाव प्रचार के बाद की स्थिति का आकलन कर दूसरे और अंतिम चरण के चुनाव प्रचार मे भी पार्टी जोर लगायेगी। इधर जदयू सांसद के इस तरह की सक्रियता का पार्टी नेताओं ने सराहना करते हुए कहा कि शीर्ष नेतृत्व की सोच को सांसद जिस तरह से आगे बढा रहे हैं। उससे मधुबनी जिला के जदयू कार्यकर्ताओं मे हर्ष है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post