बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेनीपट्टी अनुमंडल कार्यालय परिसर में स्थित व्यवहार न्यायालय में आगामी 10 अप्रैल को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन किया जायेगा। जिसको लेकर व्यवहार न्यायालय में न्यायधीशों और अधिवक्ताओं की बैठक हुई। जिसमें वन, टेलीफोन और बिजली विभाग एवं सभी बैंको तथा न्यायालयों के लंबित मामलों के निष्पादन पर चर्चा की गयी। बैठक में राष्ट्रीय लोक अदालत को लेकर आमलोगों में जागरूकता लाने पर भी बल दिया गया। इस अवसर पर एसीजेएम प्रीतम कुमार रत्न, एसीजेएम टू एसके त्रिपाठी और न्यायाधीश पुष्पम किशोर ने कहा कि राष्ट्रीय लोक अदालत के माध्यम से लोगों को सस्ता, सरल और सुलभ न्याय मिलता है। जबकि काफी दिनो से लंबित सुलहनीय वादो का आपसी सहमति के आधार पर निबटाने का प्रयास किया जाता है ताकि लोगों को व्यर्थ की भाग-दौड़ और ख़र्च से निजात मिल पाए। न्यायाधीशों ने कहा कि इस अदालत के आयोजन से न केवल सरकारी राजस्व की ही वसूली की जाती है बल्कि आमलोगों के बीच इसका सकारात्मक प्रभाव भी पड़ता है। इसलिए राज्य विधिक सेवा प्राधिकार के आदेश के आलोक में आगामी दस अप्रैल को आयोजित होने वाले लोक अदालत में अधिक से अधिक मामलों को निबटाने का प्रयास किया जायेगा। बैठक में न्यायधीशों के अलावे अधिवक्ता सुरेंद्र राय, राजकुमार वर्मा, परमेश्वर यादव, शंभूनाथ, राजदेव, संदीप कुमार सुमन, सुशील कुमार श्रीवास्तव, समीर कुमार, पवन कुमार झा, डा. शंकर कुमार झा, श्याम कुमार मिश्रा एवं कोर्ट कर्मी मो. सलमान सहित अन्य अधिवक्ता व कर्मी मौजूद थे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post