Ticker

6/recent/ticker-posts

बेरोजगारी व शोषण के खिलाफ संघर्ष ही असली श्रद्धांजलि : भाकपा

 


बेनीपट्टी(मधुबनी)। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी के बेनीपट्टी अंचल परिषद् के तत्वावधान में रविवार को अंधरी गांव में पलटू यादव व संत खतबे का शहादत दिवस मनाया गया। जहां सीपीआई के नेताओं ने पलटू यादव व संत खतबे के मूर्ति पर माल्यार्पण कर नमन किया। शहादत दिवस कार्यक्रम की अध्यक्षता अशेश्वर यादव ने किया। सभा को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक रामनरेश पांडेय ने कहा कि वर्तमान केन्द्र सरकार किसान विरोधी है। इस  सरकार के शासन में युवा बेरोजगारी से त्रस्त है। हर जगह भ्रष्टाचार का बोलबाला है। जब तक भ्रष्टाचार, बेरोजगारी, शोषण व सामंती ताकतों को खत्म नहीं किया जाता है, तब तक सपूतों को सच्ची श्रद्धांजलि नहीं होगी। श्री पांडेय ने कहा कि इसी सामंती व्यवस्था के खिलाफ जब भोगेन्द्र झा आन्दोलनरत थे, तब सामंती सोच वाले तत्वों ने उन पर हमला कर दिया, जिसमें हमारे सच्चे सपूत पलटू यादव व संत खतबे ने अपनी जान देकर भोगेन्द्र झा की जान बचा ली। उस हमले में भोगेन्द्र झा भी जख्मी हो गए थे। उस घटना के बाद सीपीआई के दर्जनों साथियों ने  सामाजिक न्याय के लिए कुर्बानी दी। जिसके बाद पच्चीस हजार एकड़ जमीन का वितरण भूमिहीनों के बीच किया गया। ढाई लाख भूमिहीन परिवार के लोगों को बसाया गया। वहीं अन्य वक्ताओं ने कहा कि आज पुनः स्थिति कमोबेस वैसी ही है। भूमिहीन लोगों को जमीन नहीं मिल रहा है। भूमिहीनों को पुनः‘ जमीन के लिए सीपीआई को आन्दोलन करने की जरुरत है। अंचल मंत्री आनंद झा ने कहा कि आज देश की स्थिति पूरी तरह से विपरित है। किसानों की आत्महत्या नहीं रुक रही है। आर्थिंक मंदी, संविधान एवं लोकतंत्र पर हमला हो रहा है। महिला, दलित, अल्पसंख्यकों का उत्पीड़न, मंहगाई, अपराध का बोलबाला हो गया है। पुलिस सरकार के इशारे पर लोगों का दमन कर रही है। श्रद्धांजलि सह संकल्प सभा को मिथिलेश झा, कृपानंद झा आजाद, राजश्री किरण, मोती शर्मा, लक्ष्मण चौधरी, अरविन्द प्रसाद, शांति देवी, तिरपित पासवान, रंजीत मिश्र, रामदेव यादव, सुबोध झा, प्रेमचन्द्र झा, सरोज झा, नंद कुमार झा आदि सीपीआई कार्यकर्ताओं ने संबोधित किया।



Post a Comment

0 Comments