बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेनीपट्टी विधानसभा वर्षो से बाहरी उम्मीदवारों को एमएलए बनाती है। जबकि बाहरी के दिल में बेनीपट्टी का विकास नहीं, अपना विकास की अवधारणा है। अब तक बेनीपट्टी में क्या विकास हुआ? जेडीयू के जिला उपाध्यक्ष नीरज झा ने उक्त बातें ढंगा काली मंदिर पर आयोजित ग्रामीणों के चौपाल में उपस्थित लोगों से कहा।

श्री झा ने कहा कि कब तक आप लोग चुप रहेंगे। डिग्री कॉलेज, बाजार में नाला की समस्या, बाढ़-सुखाड़ की समस्या वर्षो से यथावत है। लोग पलायन पर विवश है, लेकिन इस क्षेत्र से निर्वाचित एमएलए को इस सबसे कोई रुचि नहीं है। घटिया सड़को का निर्माण करा कर लोगों को विकास के नाम पर सब्जबाग दिखाए जा रहे है। श्री झा ने कहा कि वर्तमान पीएचईडी मंत्री उनके गठबंधन में है, लेकिन वे पूछना चाहते है कि आखिर ऐसी क्या मजबूरी थी, की इंजीनियरिंग कॉलेज बेनीपट्टी में नहीं, बल्कि पंडौल में खुलता है। जो भी सरकार के बड़े बड़े प्रोजेक्ट है, वो सभी बेनीपट्टी से बाहर ही किया जा रहा है। आखिर, कब तक बेनीपट्टी विधानसभा के छात्र-नौजवान पलायन कर नौकरी से लेकर शिक्षा ग्रहण के लिए भटकेंगे। 

वही एमएसयू के जिलाध्यक्ष विजयश्री टुन्ना व प्रियरंजन पांडेय ने लोगों से बाहरी को बाहर करने के साथ इस आगामी चुनाव में अपने घर के बेटा को सदन में भेजने की अपील की। उन्होंने कहा कि कुछ भी हो, अपने ही अपनो का दर्द समझते है। कार्यक्रम का संचालन कर रहे पूर्व पैक्स अध्यक्ष राजीव झा ने कहा कि कब तक हम लोग बाहरी के लिए सिर्फ वोट बैंक बनकर रहेंगे। जब तक आप वोटबैंक बने रहेंगे, तब तक ऐसे ही आप पर बाहरी उम्मीदवार थोपा जाएगा। आप का विकास सिर्फ व सिर्फ सड़क व पुल पुलिया तक सिमटा रहेगा। 

संक्षिप्त कार्यक्रम में ग्रामीणों ने नीरज झा को पूर्ण आश्वस्त करते हुए कहा कि अबकी बार वो लोग बाहरी उम्मीदवार को बाहर कर के ही दम लेंगे। उसके उपरांत नीरज झा कलुआही में हुए सामूहिक दुष्कर्म व हत्या मामले में शोक प्रकट करने के लिए मलमल पहुँचे। जहां परिजनों को जल्द इंसाफ दिलाने की बात कही। 


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post