Ticker

6/recent/ticker-posts

बेटी बचेगी तभी तो बेटी पढ़ेगी : देवेंद्र यादव

 


कलुआही(मधुबनी)। कलुआही थाना क्षेत्र के मलमल गांव में हुए सामूहिक दुष्कर्म व हत्या में मृत लड़की के घर शनिवार को पूर्व केन्द्रीय मंत्री देवेन्द्र यादव पहुंचे। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने मृतका के परिजन से मिलकर ढांढस बंधाते हुए केन्द्र व राज्य सरकार के पर भी निशाना साधा। पूर्व केन्द्रीय मंत्री ने परिजन को तत्काल दस हजार रुपये का आर्थिंक सहयोग कर हरसंभव सहयोग करने का आश्वासन दिया। पूर्व केंद्रीय मंत्री ने वहाँ उपस्थित जनसमूह से बात करते हुए कहा कि यह घटना बहुत ही जघन्य है। इस सरकार में अपराधी बेलगाम है। उन्होंने कहा कि एसपी से उनकी बात हुई है और उन्हें पुलिस अधीक्षक द्वारा यह कहा गया है कि इस घटना के मुख्य अभियुक्त की भी गिरफ्तारी कर ली गयी है। जिसकी जानकारी आज खुद प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये दे सकते हैं। उन्होंने पुलिस प्रशासन और लॉ आर्डर को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि सरकार कह रही है बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ। लेकिन बेटियों की हत्या हो रही है। बलात्कार हो रहे हैं। सवाल है कि जब बेटी बचेगी ही नहीं तो पढ़ेगी कैसे औऱ बढ़ेगी कैसे। उन्होंने पुलिस प्रशासन को चेतावनी देते हुए कहा कि तीन दिनों के भीतर सभी आरोपियों की गिरफ्तारी यदि नहीं हुई तो वे सड़क पर उतरने को बाध्य हो जायेंगे। सरकार को भी घेरते हुए उन्होंने कहा कि आज जीवन और जीविका दोंनो संकट में है। एक तरफ कोरोना से लोगों की जानें जा रही हैं तो दूसरी तरफ बाढ़ ने पूरे उत्तर बिहार में तबाही मचाई हुई है। लोगों की रोजी रोटी छीन गयी है। बेरोजगारी का आलम चरम पर है। सरकार को चुनाव की पड़ी हुई है। जनता त्रस्त है, सरकार मस्त है, विपक्ष दागदार है और डरा हुआ है। वह सरकार से सख्ती से सवाल पूछने की भी जहमत नहीं उठा रहा। पूर्व मंत्री ने जोर देकर कहा कि हम सरकार और प्रशासन से इस  नृशंस घटना की जाँच एसआईटी से करवा कर स्पीडी ट्रायल के जरिये  दोषियों को जल्द से जल्द अंजाम तक पहुँचाने की माँग करते हैं ।  ताकि मृतका  को और उनके परिवार को न्याय मिल सके। मौके पर देवेंद्र यादव के अलावा सुरेश चन्द्र चौधरी, राजेश कुमार, मो0 औसाफ लड्डन, जयचंद्र झा, पूर्व पैक्स अध्यक्ष नंद किशोर जी, पवन जी, सामाजिक कार्यकर्ता राजीव कुमार यादव , अधिवक्ता लालबाबू ललित सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।

Post a comment

0 Comments