Ticker

6/recent/ticker-posts

ग्रहण के फेर में धार्मिक स्थल भी रहे विरान

बेनीपट्टी(मधुबनी)। रविवार को वर्ष 2020 का पहला और लंबा सूर्यग्रहण लगा। जिसको लेकर प्रखंड क्षेत्र में सभी धार्मिक स्थान बंद दिखे और मांगलिक कार्यक्रम स्थगित रहा। सूर्यग्रहण को लेकर सभी गांवों के विभिन्न देवी देवताओं के मंदिरों के पट को घंटों बंद रखा गया। खासकर विश्व के सिद्धपीठों में से एक उच्चैठ भगवती स्थान में भी घंटों पूजा अर्चना सहित मांगलिक और धार्मिक कार्यक्रम बाधित रहा। जानकारी के अनुसार सिद्धपीठ उच्चैठ भगवती स्थान में वैसे तो प्रत्येक दिन लोगों की भीड़ पूजा अर्चना के लिए उमड़ती है, मगर रविवार को हजारों की संख्या में नजदीकी गांव के अलावे दूर दराज से भक्त माता छिन्नमस्तिका की पूजा अर्चना करने के लिये जुटते है। काफी संख्या में लोग मुंडन, विवाह सहित अन्य मांगलिक उदेश्यों से भी मां के दरबार काफी दूरी तय कर पहुंचते है। रविवार को ग्रहण लगने वाला है यह जानते हुए भी दूर दूर से श्रद्धालु अहले सुबह से ही माता के दरबार में पहुंच हाजिरी लगा रहें थे। साथ ही मां उच्चैठ वासिनी की जय सहित विभिन्न जयकारें लगाते हुए माता सहित अन्य देवी देवताओं की पूजा अर्चना करने में मग्न थे। मैया के दरबार नौ बजे भी काफी भीड़ थी, मगर ग्रहण के कारण साढ़े नौ बजे गर्भगृह सहित अन्य देवी देवताओं के मंदिर के कपाट-द्वार बंद कर दिए गये। जिसके कारण श्रद्धालुओं को घंटो इंतजार करना पड़ा। ग्रहण समाप्ति के बाद दूर दराज से आए भक्त मंदिर परिसर में स्थित तालाब में स्थान करने के उपरांत माता की पूजा अर्चना किए।

Post a comment

0 Comments