दिल्ली प्रमुख संवाददाता : कोरोना के प्रभाव को कम करने के लिए तआवुन ट्रस्ट के मैनेजर व सामाजिक कार्यकर्ता मोहम्मद आलम खुद जाकर सैनिटाइजेशन करवा रहे हैं। मोहम्मद द्वारा आगे-आगे जाकर अपने टीम की अगुवाई करके ओखला के मकानों दुकानों और गलियों में सैनिटाइजर का छिड़काव करवाया गया। लोग भी मोहम्मद आलम के इस काम की प्रशंसा करते नजर आए। जब हमने मोहम्मद आलम से बात की तो उन्होंने कहा कि इस गंभीर स्थिति में हम हमेशा अपने देश व शहर के साथ खड़े हैं और हमेशा खड़े रहेंगे। हम और हमारी संस्था कुछ और बारीकियों की ट्रेनिंग भी ले रही हैं, ताकि आपात स्थितियों में मदद कर सकें। उन्होंने ने कहा कि डॉ. मोहम्मद मंज़ूर आलम के मार्गदर्शन में तआवुन ट्रस्ट द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव और नियंत्रण की दिशा में सजगता और संवेदनशीलता से कार्य किया जा रहा है। मेरा टीम के साथ-साथ जाने का मकसद यह था कि मुझे लोगों के बीच जाकर उत्साह मिलेगा। उन्होंने कोरोना की लड़ाई लड़ रहे हर एक उन मुलाजिमों और कर्मचारियों की धन्यवाद किया, जिन्होंने इस लड़ाई में अपना अहम योगदान दिया और जनता को सुरक्षित रखा। इस मौके पर मोहम्मद आलम ने देश वासियों से अपील की के जिला प्रशासन, डॉक्टर, स्वास्थ्य विभाग से संबंधित कर्मचारी, सफाई सेवक और अलग-अलग समाज सेवी संस्थाएं, जिन्होंने अपनी जान की परवाह किए बिना इस महामारी के खिलाफ दिन-रात मेहनत की उनकी सेवाओं को देखते हुए हमारा भी फर्ज बनता है कि सेहत संबंधी हदायतों का  पालन करें, इसके अलावा लोगों से लॉकडाउन फॉलो करने की अपील की, उन्होंने कहा कि लोग लॉकडाउन को फॉलो करें। इसे सरकार या प्रशासन का निर्देश न समझें। लॉकडाउन को अपने जिम्मेवारी समझते हुए फॉलो करें। बेवजह घर से बाहर न निकलें। अगर कोई जरूरी कार्य हो तभी घर से बाहर जाएं। इसके साथ-साथ सोशल डिस्टेंसिंग का ख्याल रखें। तभी हम कोरोना से जंग जीत सकते हैं। समाजसेवी मोहम्मद आलम ने कहा कि अगर जरूरत पड़ी तो लोगों के बीच राहत सामग्री के साथ-साथ पर्सनल प्रोटेक्टिव इक्विपमेंट (पीपीई) किट, मास्क, ग्लव्स, सैनिटाइजर, साबुन आदि आवश्यक वस्तुओं का भी वितरण किया जाएगा।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post