बेनीपट्टी(मधुबनी)। अरेर के बिजलपुरा गांव में बीती रात करीब एक बजे ढाई दर्जन हथियार से लैस अपराधियों ने डाकेजनी की घटना को अंजाम दिया। डकैतों ने घर में घुसकर मासूम युवराज मिश्र को चाकू के नोक पर बंधक बनाकर घर में रखा चार लाख पेंतीस हजार रुपये व करीब 11 लाख रुपये के जेवरात की लूट की। इस दौरान विरोध किये जाने पर डकैतों ने गृहस्वामी बिंदा देवी के साथ उनके पुत्र बिक्रम मिश्र व पतोहू के साथ मारपीट कर एक कमरे में बंद कर दिया। डकैतों ने आलमारी से टॉप्स, मंगलसूत्र, कान की बाली, झुमका आदि जेवरात लूट किये है। उधर डकैती की जानकारी मिलते ही एसडीपीओ पुष्कर कुमार, सर्किल इंस्पेक्टर राजेश कुमार व अरेर एसएचओ रामाशीष कामती दल बल के साथ क्षेत्र की नाकेबंदी कर छानबीन शुरू कर दी। गृहस्वामी के बयान के आधार पर पुलिस ने गांव के पवित्तर ठाकुर व ललित कामत को गिरफ्तार कर लिया। महिला ने दोनों को देखते ही पहचान ली। जिसके बाद पुलिस अपने साथ पूछताछ करने के लिए ले गयी। गृहस्वामी बिंदा देवी ने बताया कि डकैत मेन ग्रिल को फांदकर घर के अहाते में घुसकर घर के ग्रिल को काटकर घर में प्रवेश कर गया। घर में घुसते ही मासूम युवराज को अपने कब्जे में लेकर जबरन आलमारी की चाभी मांगी। गृहस्वामी की माने तो उक्त गैंग में एक-दो वृद्ध को छोड़कर अन्य सभी डकैत की उम्र 35 से 40 वर्ष की होगी। सभी डकैत हाथ में पिस्टल व चाकू रखे हुए थे। उधर महिला ने पुलिस के कार्यशैली पर भी नाराजगी प्रकट करते हुए कहा कि विगत कुछ वर्षों से लगातार उनके घर में चोरी की घटना होती रही है। पुलिस को सूचना दिए जाने के बाद भी कोई कार्रवाई नहीं हुई । इस संबंध में एसडीपीओ पुष्कर कुमार ने बताया कि दो डकैत को गिरफ्तार कर लिया गया है। अन्य अपराधकर्मी को गिरफ्तारी हेतु छापेमारी की जा रही है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here


Previous Post Next Post