Ticker

6/recent/ticker-posts

डीआइजी ने केस की समीक्षा कर कहा, एसपी व एसडीपीओ ले गश्ती का जायजा

बेनीपट्टी(मधुबनी)। दरभंगा प्रक्षेत्र के डीआईजी क्षत्रनील सिंह गुरुवार की देर संध्या बेनीपट्टी अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी के कार्यालय प्रकोष्ठ में पेंडिंग केस की समीक्षा कर अधिकारियों को कई निर्देश दिए। अपराध पर नकेल कसने के लिए डीआईजी ने एसपी को तीन रात जिले का भ्रमण कर थाना के द्वारा किए जा रहे रात्रि गश्ती का औचक निरीक्षण करने का निर्देश दिया। वहीं एसडीपीओ को चार रात्रि गश्ती का जायजा स्वयं लेने का निर्देश दिया। डीआईजी ने कहा कि गश्ती में किसी भी प्रकार की लापरवाही सहन नहीं की जाएगी। अगर रात्रि गश्ती में कोई अधिकारी वाहन में सोते हुए मिले तो वैसे अधिकारी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी। वहीं डीआईजी ने स्पष्ट रुप से अधिकारी व एसएचओ को निर्देशित करते हुए कहा कि अपराध व शराब पर जीरो टालरेंस की नीति कायम है। हर हाल में इस नीति का पालन सख्ती से करना होगा। केस की समीक्षा के दौरान डीआईजी ने बेनीपट्टी के एसबीआई  बैंक के सामने दिवाली से पूर्व हुए अपराधिक व लूटकांड के आरोपी के शिनाख्त होने के बाद भी अब तक गिरफ्तारी नहीं होने पर नाराजगी प्रकट करते हुए कहा कि जब अपराधी की शिनाख्त हो चुकी है तो फिर कार्रवाई में देरी क्यूं? उन्होंने इस कांड के संलिप्त अपराधियों को शीघ्र दबोचने का निर्देश दिया। डीआईजी ने पूरे अनुमंडल प्रक्षेत्र के थानों के पेंडिंग केस की गहन समीक्षा कर कई कांड में पुलिसिया कार्रवाई पूर्ण नहीं होने पर नाराजगी प्रकट करते हुए यथाशीघ्र कार्रवाई पूर्ण करने का निर्देश दिया। डीआईजी ने सीमावर्ती थानों के एसएचओ को विशेष रुप से निगरानी किए जाने का निर्देश देते हुए कहा कि सभी एसएचओ गश्ती में लापरवाही नहीं बरते, शराब की किसी भी तरह की सूचना मिलती है तो तुरंत एक्शन लें। अगर किसी भी स्तर पर चूक की मामला आई तो उसकी जांच करा दोषियों के खिलाफ एक्शन लेंगे। उन्होंने कहा कि एसडीपीओ के स्तर से कुछ मामले पेंडिंग है, जिसे एक माह के अंदर डिस्पोजल करने का निर्देश दिया गया है। वहीं संगीन मामले जो अब तक पेंडिंग है, वैसे मामलों में गिरफ्तारी अथवा कुर्की-जब्ती की कार्रवाई करने का निर्देश दिया है। मौके पर पुलिस अधीक्षक डा0 सत्यप्रकाश, एसडीपीओ पुष्कर कुमार, पुलिस निरीक्षक राजेश कुमार, एसएचओ सह पुलिस निरीक्षक महेन्द्र कुमार सिंह, अरेड़ एसएचओ रामाशीष कामती, खिरहर एसएचओ शैलेश कुमार झा, मधवापुर एसएचओ अनिल कुमार, हरलाखी एसएचओ अशोक कुमार, बिस्फी एसएचओ उमेश पासवान, औंसी ओपीध्यक्ष कुणाल कुमार, पतौना ओपीध्यक्ष मनोज कुमार सहित कई पुलिस कर्मी मौजूद थे। उपरांत, डीआईजी अचानक बेनीपट्टी थाना पहुंच कर थाना डायरी की जांच की। इस दौरान डीआईजी श्री सिंह ने सभी पुलिस अधिकारियों को चुस्ती से कार्य करने का निर्देश दिया।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here

Post a Comment

0 Comments