Ticker

6/recent/ticker-posts

सृजन घोटाला की जांच सुप्रीम कोर्ट के जज से कराए

बेनीपट्टी(मधुबनी)। सृजन घोटाला बिहार की सबसे बड़ी घोटाला है।  सरकार अपनी नाकामी को छूपाने के लिए जांच का नाटक कर रही है। बिहार की जनता सृजन घोटाला की जांच सीबीआई से कराने से संतुष्ट नहीं होगी, इसकी जांच सुप्रीम कोर्ट के न्यायाधीश से होनी चाहिए। अनुमंडल कार्यालय परिसर में आयोजित राजद की धरना को संबोधित करते हुए पूर्व विधायक रामाशीष यादव ने कहा। पूर्व विधायक ने कहा कि सरकार के नाकामी के कारण बाढ़ आयी है। बाढ़ की तैयारी करने के दावों के बाद भी बाढ़ से कई जिलों की स्थिति खराब हो गयी। बाढ़ पीड़ितों को राहत के नाम पर कुछ नहीं दिया जा रहा है। अब सरकार फूड पैकेट भेज रही है, जब कि सभी पीड़ित अब बाहर निकल गये है। सरकार को इस बात का जवाब देना चाहिए की बाढ़ की तैयारी क्या हुई थी।सरकार व प्रशासन बाढ़ पीड़ितों को राहत देने में पुरी तरह नाकाम साबित हो रहे है। राजद ने अनुमंडल में प्रखंड को बाढ़ग्रस्त क्षेत्र घोषित करने,स्थाई निदान, किसानों के कर्ज को माफ करने, पुल-पुलियों का निर्माण, राजस्व उगाही पर रोक लगाने सहित ग्यारह सूत्री मांगों को लेकर धरना दिया। धरना के उपरांत राजद की शिष्टमंडल टीम ने राज्यपाल के नाम से स्मार पत्र एसडीएम को सौंपा। धरना की अध्यक्षता विजय कुमार यादव ने किया। मौके पर रामवरण राम, हर्षनाथ झा, ललित कुमार सिंह, राजेंद्र कामत, योगेंद्र यादव, संतोष यादव, देवेंद्र यादव, रामविनय प्रधान सहित कई लोगों ने संबोधित किया।



Post a Comment

0 Comments