Ticker

6/recent/ticker-posts

कालाबाजारी का अनाज लदा पीकप जब्त, प्राथमिकी दर्ज

बेनीपट्टी(मधुबनी)। कन्हैया मिश्रा : गरीबों के निवालें के लिए आये सरकारी अनाज को कालाबाजारी करने जा रहे एक पीकप को महमदपुर के ग्रामीणों ने गांव के ही मंहथजी के पोखर के समीप जब्त कर लिया।जब्त पीकप पर 15 बोरा चावल व 15 बोरा गेंहू लदा हुआ था।ग्रामीणों के पूछताछ में पौआम गांव के पीकप चालक लक्ष्मी यादव ने महमदपुर के डीलर सोजेंद्र प्रसाद सिंह व उमेश प्रसाद सिंह का अनाज बताया।उधर ग्रामीणों ने अनाज की कालाबाजारी की शिकायत एसडीएम सहित अन्य पदाधिकारियों को दी।जानकारी मिलते ही एमओ दशरथ प्रसाद यादव मौके पर पहुंच कर ग्रामीणों के समक्ष जांच कर कार्रवाई का आश्वासन दिया।परंतु आक्रोशित ग्रामीणों ने डीलर के खिलाफ तुरंत कार्रवाई की मांग को लेकर एमओ को करीब आधा घंटा तक बंधक बना लिया।उधर एमओ को बंधक बनाने की सूचना मिलते ही बेनीपट्टी थाना के अनि बीरेंद्र कुमार व अनि रंजीत कुमार मौके पर दल-बल के साथ पहुंच कर उग्र ग्रामीणों को शांत कराकर उचित कार्रवाई का भरोसा दिया।तब जाकर ग्रामीण शांत हुए।उधर ग्रामीणों के कब्जें में पीकप चालक जांच अधिकारियों के समक्ष माल उक्त डीलर का होने की बात लिखित रुप से दी।इसी बीच स्थल पर अधिक भीड़ होने का लाभ उठाते हुए चालक मौके से फरार होने में सफल हो गया।आपूर्ति पदाधिकारी ने बताया कि फरार चालक के लिखित बयान के आधार पर महमदपुर के डीलर सोजेंद्र प्रसाद सिंह व उमेश प्रसाद सिंह के खिलाफ थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गयी है।एसएचओ सह पुलिस निरीक्षक मदन प्रसाद ने बताया कि प्राथमिकी दर्ज कर ली गयी है। चालक की खोजबीन की जा रही है।जब्त वाहन को थाना में रखा गया है।वहीं अनाज को पदाधिकारी के आदेश पर दूसरे डीलर के गोदाम में रखा दिया गया है।उधर इन आरोपों के संबंध में दोनों डीलरों ने बताया कि ग्रामीण राजनीतिक साजिश के तहत उन्हें फंसाने के नियत से आरोप लगाया गया है।वे किसी भी स्तर के जांच के लिए तैयार है।इस संबंध में अनुमंडल पदाधिकारी राजेश परिमल ने बताया कि दोनों डीलरों पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है।पुलिस मामले की जांच करेगी,रिपोर्ट के आधार पर दोषी पाये जाने पर कार्रवाई की जायेगी।

Post a comment

0 Comments