Ticker

6/recent/ticker-posts

डूब रहा बेनीपट्टी का लोहिया चौक, टूट रहा विश्वास



बेनीपट्टी(मधुबनी)। गत विधानसभा चुनाव से पूर्व बेनीपट्टी के लोहिया चौक पर युवाओं ने "नाला नहीं तो वोट नहीं" का स्लोगन देकर वोट वहिष्कार की घोषणा कर दी थी। इस दौरान सड़क मार्च कर रहे पूर्व मंत्री सह एमएलए विनोद नारायण झा को भी लोगों की नाराजगी झेलनी पड़ी थी।


बताया जा रहा है कि उक्त घोषणा महज चंद दिनों के लिए ही थी। जिसका असर अब भी देखने को मिल रहा है। चुनाव के बाद भले ही माननीय का चेहरा बदल गया, लेकिन नहीं बदला तो वो है बेनीपट्टी के लोहिया चौक की सूरत।


बेनीपट्टी के लोहिया चौक पर लग रहे जलजमाव से फिर लोगों को जूझना पड़ रहा है। महिलाओं को जहां साड़ी उठाकर चलने की मजबूरी है तो वही बाइक चालक को गंदे पानी का छींटा को झेलना नियति बन गयी है।


गौरतलब है कि बेनीपट्टी को हाल ही में नगर पंचायत का दर्जा मिल गया है। वही कई दशक पूर्व इसे अनुमंडल का दर्जा प्राप्त है। बावजूद, बेनीपट्टी में न तो अनुमंडल योग्य विकास पहुँच सकी है, न ही अब तक नगर पंचायत के विकास की कोई बात हुई है।


बताते चले कि वर्तमान विधायक श्री विनोद नारायण झा ने अपने पहले विधायकी कार्यकाल में बेनीपट्टी बाजार में नाला का निर्माण कराने की पूरी कोशिश की थी। उन्होंने तत्कालीन पथ निर्माण मंत्री नंदकिशोर यादव से विशेष रूप से नाला निर्माण की मांग की थी। मंत्री ने भी श्री झा की बात को रख नाला निर्माण हेतु राशि उपलब्ध कराई थी।



लेकिन, बताया जा रहा है कि कुछ हठधर्मी लोगों के निजी स्वार्थ के कारण बेनीपट्टी बाजार में नाला का निर्माण नहीं हो सका। बाकायदा, नाला निर्माण के कार्य का विधायक श्री झा ने अनुमंडल गेट के समीप शिलान्यास कर दिया था। ठीकेदार के द्वारा एक भाग में नाला का निर्माण भी कर दिया गया था।


स्थानीय लोगों ने बताया की कुछ लोग नाला निर्माण के रात ही उसमें कचरा डाल देते थे। जिससे संवेदक आजिज होकर कार्य को अधूरा छोड़ चला गया।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here

Post a Comment

0 Comments