बेनीपट्टी(मधुबनी)। बेनीपट्टी के पश्चिमी भूभाग के सभी पंचायत बाढ़ के पानी से घिरा हुआ है। लोगों को घर से निकलने के लिए क्षेत्र में सरकारी नाव नहीं है। विस्थापित लोग पॉलीथीन टांग कर समय गुजार रहे है, बावजूद, कोई अधिकारी इन लोगों की सुधि नहीं ले रहा है। क्षेत्रीय विधायक भावना झा ने रविवार को परौल के दुर्गा मंदिर में सामुदायिक भवन का शिलान्यास कर पत्रकारों से कही। श्रीमती झा ने कहा कि बाढ़ से पूरे क्षेत्र की स्थिति दयनीय है। किसानों के धान की फसल बर्बाद हो गई। कई गांव के मुख्य पथ पानी के धारा में कटाव कर चुकी है। वहीं भारी बारिश से कई पंचायत में जलजमाव की समस्या उत्पन्न है। उन्होंने बिहार सरकार के चार-चार मंत्री जिले के होने के बाद भी मधुबनी जिला को बाढ़ग्रस्त जिला की सूची में न शामिल होने पर आश्चर्य व्यक्त करते हुए कहा कि सरकार की दोहरी मापदंड के कारण इस क्षेत्र को अनदेखा किया गया है। जबकि, मधुबनी के दोनों भागों में बाढ़ की समस्या है। उन्होंने तत्काल सरकार से मधुबनी को बाढ़ग्रस्त क्षेत्र घोषित कर लोगों को नाव मुहैया कराने की मांग की है। इससे पूर्व ग्रामीणों ने विधायक का भव्य स्वागत किया। बता दे कि परौल में विधायक के एच्छिक कोष से करीब साढ़े आठ लाख के लागत से सामुदायिक भवन का निर्माण कराया जाएगा। मौके पर कांग्रेस कार्यकर्ता सुन्दर मिश्र, पंचायत समिति सदस्य संजय झा आदि कई लोग मौजूद थे।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post