Ticker

6/recent/ticker-posts

दरकनें लगी पाली-मेघवन की जमींदारी बांध

बेनीपट्टी(मधुबनी)। प्रखंड के पाली मंझिला टोल-मेघवन यादव टोल के मध्य स्थित जमींदारी बांध की स्थिति काफी खराब है। मरम्मती के कुछ माह बीतने के बाद से ही बांध दरकनें लगा है। जगह जगह होल बने हुए है, साथ ही बांध में कई स्थानों पर दरारें आने शुरू हो गई है। बांध की स्थिति ठीक नही रहने के कारण पाली, मेघवन सहित अन्य गांवों के लोगों की धड़कने तेज होने लगी है। लोगों में भय का माहौल बन गया है। इतना ही नही बल्कि उक्त बांध के निकट से धौंस नदी की उपधारा गई हुई है, जिसके कारण लोगों की चिंता और अधिक बढ़ने लगी है। प्राप्त जानकारी के अनुसार बीते वर्ष 2019 में आएं प्रलंयकारी बाढ़ में यह बांध कई जगह टूट गया था। जिसके कारण आस पास के कई गांवों में तबाही मच गई थी। लाखों-करोड़ों रूपए की लागत से पुनः उक्त स्थल पर बांध की मरम्मती की गई। या यूं कहें तो मरम्मती के नाम पर खानापूरी की गई। स्थिति को देख कहा जा सकता है कि अगर बाढ़ आयी तो यहां फिर मचेगी भीषण तबाही। बता दें कि बेनीपट्टी प्रखंड के पश्चिमी भाग के पाली सहित अन्य गांवों के लिये बांध भी एक सुरक्षा कवच है। अगर यह कहीं भी टूटा तो इन इलाकों में तबाही मचना तय है। मगर बांध की स्थिति काफी खराब है। देखने वाला कोई नही है। मानसून भी दस्तक दें चुका है। प्रत्येक वर्ष करोड़ों रूपए की लागत से मरम्मती होने वाले बांधों का लाइफ ज्यादे समय तक नही टीक पा रहा है, जिससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि बांधों की मरम्मती में कितने पैमाने पर पारदर्शिता बरती जाती है। इस संबंध में अंचलाधिकारी प्रमोद कुमार सिंह ने बताया कि बांधों की मजबूती के लिये बाढ़ नियंत्रण प्रमंडल को लिखा जा रहा है।

Post a comment

0 Comments