बेनीपट्टी(मधुबनी) बिहार के लोग देश के हर कोने में मौजूद है लेकिन देश स्तर पर लॉकडाउन के बीच दिल्ली से भारी संख्या में जिस तरह बिहार के लिए लोगों का पलायन हुआ वह एक उच्च स्तरीय साजिश का परिणाम है । इस पलायन के लिए निश्चित रूप से दिल्ली की केजरीवाल सरकार की भूमिका संदिग्ध है । प्रदेश जदयू के वरिष्ठ नेता दरभंगा अलीनगर के प्रभारी प्रफुल्ल कुमार ठाकुर ने इस आशय की जानकारी देते हुए कहा कि कोरोना जैसी अभूतपूर्व मानवीय संकट के इस तरह के पलायन से पूरे बिहार में अव्यवस्था तथा भयावह परिस्थितियां उत्पन्न करने का एक गहरा षड्यंत्र रचा गया था लेकर बिहार की नीतीश सरकार ने बेहतर ढंग निपट कर साजिश रचने वालो के मंसूबा फेल कर दिए । जदयू नेता ने दिल्ली सरकार के द्वारा प्रति दिन चार लाख लोगों को खिलाने के दावे को झूठा करार देते हुए कहा कि यदि वहां व्यवस्था होती तो इस तरह की अफरा तफरी नही मचती । जदयू नेता ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए नीतीश कुमार के प्रबंधन तथा नीतियों की जमकर सराहना करते हुए कहा कि एक तरफ राज्य सरकार के जागरूकता तथा सतर्कता के कारण  बिहार में 30 मार्च को इस संक्रमण से पीड़ितों की संख्या नही बढी वही बिहार से बाहर रहने वाले सभी के बेहतर व्यवस्था के लिए अपने स्तर से पहल कर यह साबित कर दिया है कि बिहार सरकार हर बिमारियों के लिए चिंतित हैं ।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post