बेनीपट्टी(मधुबनी)। बाल विकास परियोजना कार्यालय के छज्जा गुरुवार की सुबह जमींदोज हो गई। इस दौरान बाल विकास परियोजना कार्यालय में कार्यरत एलएस व अन्य कर्मी कार्यालय जा रहे थे। प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि दो एलएस व एक कार्यालय कर्मी बाल-बाल बच गए। थोड़ी भी देर हो जाती तो कर्मियों के सिर पर रोड़ा-पत्थर गिर जाता। उधर, अचानक कार्यालय का छज्जा गिर जाने से पूरे कार्यालय में अफरातफरी का माहौल कायम हो गया। वहीं सीडीपीओ के निर्देश पर सफाई कर्मियों से मलबा को साफ कर दिया है। गौरतलब है कि बाल विकास परियोजना का कार्यालय विगत कई वर्षों से कालाजार वार्ड के लिए निर्मित भवन में संचालित कराई जा रही है। दूसरे विभाग के भवन में बाल विकास परियोजना कार्यालय संचालित होने के कारण उक्त भवन के रंग-रोगन अथवा जीर्णोद्वार के लिए राशि मुहैया नहीं कराने के कारण भवन पूर्णरुप से अतिजर्जरता के चपेट में आ चुका है। भवन की स्थिति इतनी खराब है कि अधिकांश कमरों का दरवाजा समेत शौचालय बर्बाद हो चुका है। शौचालय के बर्बाद हो जाने के कारण प्रशिक्षण अथवा बैठक के लिए आए सेविकाओं व सहायिकाओं को भारी परेशानियों का सामना करना पड़ता है। वहीं भवन के पीछे जंगल होने के कारण आए दिन सांप व बिच्छुओं का खतरा मंडराता रहता है। सीडीपीओ सुशीला कुमारी ने बताया कि भवन के अतिजर्जरता के कारण कर्मी भयभीत रहते है। भूकंप के खतरनाक जोन में होने के कारण कार्य संपादित करने में भी दिक्कते होती है। वहीं सीडीपीओ ने बताया कि प्रखंड के गांधी-स्मृति भवन अथवा अन्य खाली पड़े भवन में विभागीय कार्यालय ले जाने के लिए पत्राचार किया जा रहा है। जिलाधिकारी से आदेश प्राप्त होने के बाद कार्यालय को दूसरे जगह पर शिफ्ट कर दिया जाएगा।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post