बेनीपट्टी(मधुबनी)। वैश्विक महामारी कोरोना के रोकथाम के लिए जारी लॉकडाउन में घर बैठे बेरोजगारों के लिए जरैल के युवाओं ने कमर कस ली है। जरैल के युवाओं ने मानवता का परिचय देते हुए राहत सामाग्री बना कर दिहाड़ी मजदूरों के बीच वितरित किया। युवाओं ने ऐसे लोगों के घरों तक राशन व दैनिक सामान उपलब्ध कराए है, जो दिहाड़ी मजदूरी कर आजीविका चला रहे थे। लॉकडाउन के कारण मजदूरी छोड़ कर घर बैठ गए है। जरैल के  युवा कांग्रेस अध्यक्ष विजय कृष्ण झा व एमएसयू के जिलाध्यक्ष शशि अजय झा ने बताया कि गांव के युवाओं के साथ मिलकर रोजाना राहत सामाग्री बना कर दिहाड़ी मजदूरों को चिन्ह्ति कर सामान दी जा रही है। ताकि, किसी भी परिवार को भूखे पेट न सोना पड़े। बताया कि इस आपदा के समय हर किसी को दूसरे की चिंता करना चाहिए। इस सब कार्यों में सोशल डिस्टेंस का ध्यान रख कर यथासंभव मजदूर व गरीबों की भलाई करनी चाहिए। श्री झा ने बताया कि सभी राहत पैकेट में पांच किलो चावल, आधा किलो दाल, आधा किलो तेल, दो किलो आलू, सोयाबीन, सत्तु, अदौड़ी व सलाई दी जा रही है। ताकि, हर परिवार स्वयं भोजन पका कर खा सके। श्री झा ने बताया कि राहत सामाग्री अधिक से अधिक लोगों के बीच वितरण की जाएगी। इस कार्य में  युवा समाजसेवी शंकर झा, किशोरी यादव, सोनू मिश्र आदि ग्रामीण पूर्ण सहयोग कर रहे है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here


ई-मेल टाइप कर डेली न्यूज़ अपडेट पाएं

BNN के साथ विज्ञापन के लिए Click Here

Previous Post Next Post