बेनीपट्टी के पत्रकार सह आरटीआई एक्टिविस्ट बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश हत्याकांड के मुख्य अभियुक्त अनुज महतो ने बुधवार को बेनीपट्टी कोर्ट में सरेंडर कर दिया। सरेंडर के साथ ही बेनीपट्टी पुलिस ने अनुज महतो को 48 घंटो के लिए रिमांड पर लिया है।

जानकारी के लिए बता दें कि अविनाश 9 नवम्बर की रात अपने आवास स्थित ऑफिस से निकलकर अनुज महतो के कटैया रोड स्थित अनुराग हेल्थ केयर पर, उस हेल्थ केयर की नर्स पूर्णकला देवी के फोन कॉल पर पहुंचा था, जिसके बाद उसकी हत्या कर दी गई थी।

1

इस मामले में अब तक उक्त नर्सिंग होम के नर्स पूर्णकला देवी सहित 9 लोगों की गिरफ्तारी हो चुकी है, वहीं अब कांड के मुख्य अभियुक्त अनुज महतो के सरेंडर करने के बाद पुलिस को राहत मिली है।

2

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार अविनाश की हत्या 9 नवम्बर को की गई थी। वहीं अविनाश का शव 12 नवम्बर को उड़ेन गांव से आगे स्टेट हाईवे के किनारे मिला था।

अनुज महतो की गिरफ्तारी के बाद पुलिस के लिए अब यह सुराग लगाना अहम होगा कि अविनाश की हत्या के बाद दो दिनों तक उसके शव को कहां रखा गया था। साथ ही किस वाहन से उसके शव को उड़ेंन गांव से आगे सड़क किनारे जहां शव मिला वहां ले जाया गया और शव को जगह तक ले जाने में कौन-कौन लोग शामिल थे।

अनुज महतो मूल रूप से त्योंथ पंचायत के तिसियाही गांव के खनुआ टोल का रहने वाला है। अनुज के पिता का नाम युगेश्वर महतो है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here


Previous Post Next Post