बेनीपट्टी (मधुबनी) : BNN न्यूज़ के पत्रकार सह आरटीआई कार्यकर्ता बुद्धिनाथ झा उर्फ अविनाश झा के अपहरण बाद हत्या मामले में BNN को अहम सुराग मिले हैं। जिसमें एक अस्पताल पर कार्रवाई करवाने की कागजी प्रकिया करने के क्रम में अविनाश को फर्जी अस्पताल के एक कर्मी द्वारा देख लेने की बात धमकी भरे लहजे में कही गई थी।


जिसके महज 10 दिन बाद अविनाश का अपहरण हो गया और 12 नवम्बर को उसकी अधजली लाश मिली थी।


उक्त अस्पताल के बारे में फर्जी तरीके से इलाज व फर्जी चिकित्सकों, कर्मियों द्वारा कार्य किये जाने की पुख्ता सबूत जुटाकर अविनाश ने कार्रवाई के लिए सिविल सर्जन मधुबनी के नाम से आवेदन भी दिया था।


जिसके बाद उक्त फर्जी अस्पताल के चिकित्सकों व नर्सिंग स्टाफ अविनाश को सबक सिखाने की जुगत में लगे हुए थे।


जिसके कारण अविनाश की अपहरण व हत्या के पीछे की एक वजह यह भी हो सकती है, ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है।


इधर अविनाश के हत्या के 24 दिन बीत चुके हैं, लेकिन अब तक पुलिस कोई ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच सकी है। उम्मीद की जा रही है कि नए साक्ष्य मिलने के बाद पुलिस अब अपने जांच में तेजी लाएगी, और जल्द मामले का उदभेदन संभव हो पायेगा।


कल से धरने पर बैठेंगे परिजन

अविनाश के हत्या के 24 दिन बीत जाने के बाद परिजनों के सवालों का जवाब पुलिस के पास नहीं है। जिसके प्रतिकार में परिजनों ने आम लोगों के समर्थन के साथ कल 4 दिसंबर शनिवार से लोहिया चौक व थाने के मध्य बनें यात्री शेड में धरने पर बैठेंगे। वहीं 6 दिसंबर से सर्वदलीय संघर्ष समिति भी आमरण अनशन पर जाने की घोषणा पहले ही कर चुकी है।


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post