बेनीपट्टी(मधुबनी)। बिहार में सुशासन की सरकार में अपराधियों के गिरफ्तारी के लिए मृतक के पिता को अन्न त्याग करना पड़ जाए तो इसे क्या कहा जा सकता है। ऐसा ही मामला बेनीपट्टी के वीर सपूत पत्रकार सह आरटीआई एक्टिविस्ट अविनाश झा उर्फ बुद्धिनाथ के पिता दयानंद झा को देखना पड़ा। जो पुत्र के हत्यारों की गिरफ्तारी के लिए पिछले 16 दिनों से अन्न का त्याग कर दिए थे। अन्न त्याग देने से वे काफी बीमार व कमजोर हो गए थे। परिवार अभी एक सदमे से उबर नहीं सका था, की दूसरे दुख के रूप में दयानंद झा के अन्न त्यागने से आने वाली थी।

1

इस खबर को BNN News ने कल शाम में जनता के बीच परोसी। खबर आम होते ही तेजी से वायरल होने लगी। अविनाश के इंसाफ की लड़ाई को लड़ रहे अरेर के विजय मिश्रा को इस खबर की भनक लगी। उधर, गुरुवार की शाम विजय मिश्र बेनीपट्टी पहुँच कर अविनाश के पिता दयानंद झा से लंबी बातचीत कर उन्हें अन्न ग्रहण करने पर राजी किया। श्री मिश्र ने उन्हें आश्वासन दिया कि, ये लड़ाई अब उनकी नहीं, बल्कि पूरे समाज की लड़ाई है। समाज हर लड़ाई लड़ सकती है तो फिर, अपने सपूत को इंसाफ भी दिला सकती है। उधर, खबर अपडेट किये जाने से चंद मिनट पूर्व ही अविनाश के पिता दयानंद झा ने अन्न ग्रहण कर लिया है। इसकी पुष्टि उनके घर के लोगों ने की है। बता दे कि दयानंद झा अपने पुत्र की हत्या के बाद से दोषियों के गिरफ्तारी के मांग को लेकर अन्न का त्याग कर दिए थे।

2


आप भी अपने गांव की समस्या घटना से जुड़ी खबरें हमें 8677954500 पर भेज सकते हैं... BNN न्यूज़ के व्हाट्स एप्प ग्रुप Join करें - Click Here





Previous Post Next Post