किसानों को जागरुक करने के लिए करें चौपाल का आयोजन - BNN News

Breaking

23 Jul 2018

किसानों को जागरुक करने के लिए करें चौपाल का आयोजन

बेनीपट्टी(मधुबनी)। कृषि विभाग के योजनाओं के संबंध में जानकारी नहीं होने पर किसानों को विभाग से जुड़े योजनाओं से लाभ नहीं मिल पाता है। कृषि विभाग के योजनाओं से किसानों को सीधे जोड़ने के लिए किसान सलाहकार व कृषि समनव्यक को गांव स्तर पर चौपाल का आयोजन कर कृषि विभाग के योजनाओं व योजनाओं के लाभ के संबंध में पूरी जानकारी देना चाहिए। जिससे किसान लाभ ले सकते है। अनुमंडल परिसर में आयोजित कृषि विभाग की कृषि यांत्रिकरण मेला का विधिवत् उद्घाटन करते हुए एसडीएम मुकेश रंजन ने कहा। एसडीएम ने कहा कि दस दिन पूर्व बेनीपट्टी में बाढ़ की संभावना तेज हो गयी थी। अब स्थिति ऐसी है कि खेतों में नमी योग्य पानी नहीं है। ऐसी स्थिति में कृषि विभाग किसानों को क्या लाभ दे सकती है। इस संबंध में मीडिया के माध्यम से प्रचार-प्रसार के साथ चौपाल के माध्यम से किसानों को जानकारी दे सकते है। डीजल अनुदान समेत अन्य स्कीम सरकार सीधे किसानों के खातों के माध्यम से अनुदान दे रही है। ताकि, स्कीम व किसानों के अनुदान में पारदर्शिता बरती जाए। वहीं एसडीएम ने कहा कि अनुदान समेत अन्य लाभ आप उसी खाते पर ले सकते है, जिस बैंक खाता का आधार से लिंक कराया गया हो। कृषि विभाग अनुदान पर कृषि यंत्र किसानों को मुहैया करा रही है। कृषि यंत्र लेने के लिए की जाने वाली प्रक्रिया से किसानों को अवगत कराएं, तो अधिकांश किसान कृषि यंत्र खरीद सकते है। वहीं जिला  कृषि पदाधिकारी सुधीर कुमार ने सभी किसान सलाहकार व कृषि समनव्यक को स्पष्ट रुप से कृषि विभाग के योजनाओं को किसानों के बीच प्रचार-प्रसार करने के साथ किसानों की हर समस्या का निदान करने की बात कही। उन्होंने डीजल अनुदान के संबंध में किसानों को संबोधित करते हुए कहा कि आगामी 30 अक्टूबर तक किसानों को खरीफ फसलों के सिंचाई के लिए क्रय किए गए डीजल पर चालीस रुपये प्रति लीटर की दर से चार सौ रुपये प्रति एकड़, प्रति सिंचाई अनुदान दिए जाएंगे। वहीं डीएओ ने कहा कि यह अनुदान धान का बिचड़ा, जुट फसल की दो सिंचाई के लिए आठ सौ प्रति एकड़ तथा धान, मक्का अन्य खरीफ फसलों के अंतगर्त दलहनी, तेलहनी, मौसमी सब्जी, औषधीय एवं सुगन्धित पौंधे की तीन सिंचाई के लिए बारह सौ रुपये प्रति एकड़ की दर से अनुदान का भुगतान किया जाएगा। डीएओ श्री कुमार ने कहा कि गेंहू की तीन सिंचाई के लिए अधिकतम बारह सौ रुपये प्रति एकड़ एवं रबी फसलों के अंतगर्त दलहन, तेलहन, मौसमी सब्जी हेतु दो सिंचाई के लिए अधिकतम आठ सौ रुपये दिए जाएंगे। वहीं डीएओ ने सभी किसानों को डीजल अनुदान के लिए ऑनलाईन आवेदन किए जाने की अपील की। इससे पूर्व कार्यक्रम की शुरुआत डीएओ सुधीर कुमार, एसडीएम मुकेश रंजन, पूर्व प्रमुख सह आत्मा अध्यक्ष नित्यानंद झा, बीएओ प्राणनाथ सिंह समेत कई अधिकारियों ने संयुक्त रुप से दीप प्रज्जवलित कर किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता आत्मा अध्यक्ष ने किया। बीएओ श्री सिंह ने अपने संबोधन में किसानों से यांत्रिकरण मेला का लाभ लेने की अपील करते हुए कहा कि अब अन्य दिनों में भी किसान कृषि यंत्र की खरीद कर सकते है। अन्य दिनों में भी खरीद पर अनुदान दिए जाएंगे। मौके पर कृषि विभाग के द्वारा रोटावेटर, कल्टीवेटर, पंपिग सेट, दमकल, पैडी ट्रांसप्लांटर समेत कई कृषि यंत्र का प्रदर्शन कर यंत्र के लाभ के संबंध में किसानों को सामूहिक तौर पर जानकारी दी गयी। शक्कल अली रब्बानी, शिवकुमार सिंह, हरलाखी बीएओ अभिनव प्रियदर्शी, जिला परिषद् खुशबू कुमारी, उप प्रमुख अशोक कुमार चौधरी, कृपानंद झा आजाद, वरुण कुमार चौधरी, पप्पू सिंह, प्रदीप कुमार दास, संजय झा, अवनीश तिवारी समेत कई जनप्रतिनिधि मौजूद थे।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें