नियम को ताक पर रख खुलेआम की जा रही ओवरलोडिंग - BNN News

Breaking

11 May 2018

नियम को ताक पर रख खुलेआम की जा रही ओवरलोडिंग

बेनीपट्टी(मधुबनी)। सड़क दुर्घटनाओं का सिलसिला चालू होने के बाद भी प्रशासन सड़कों पर परिवहन विभाग के नियम को धरातल पर नहीं उतार पा रही है। प्रशासन की शह पर वाहन चालक व वाहन मालिक सारे नियमों की धज्जियां उड़ा रहे है। बावजूद प्रशासन कार्रवाई नहीं कर रही है। तेज धूप होने के बाद भी बस चालक के द्वारा बस के छतों पर यात्री को बैठा कर आवाजाही कराई जा रही है। जो कभी भी बड़ी दुर्घटनाओं को आमंत्रित करती दिखाई दे  ही है। वहीं बता दें कि बेनीपट्टी के सबसे अधिक जर्जर बेनीपट्टी-हरलाखी सड़क पर भी खुलेआम ओवरलोडिंग की जा रही है। स्थानीय लोगों की माने तो तेज धूप व जर्जर गड्ढानूमा सड़क पर कब बस पलट जाएगी, कहना मुश्किल है। लेकिन, बस चालक थोड़ी सी कमाई की लालच में लोगों के जान से खिलवाड़ कर रही है। वहीं लोगों ने बताया कि प्रशासन की इसमें भारी लापरवाही है। गौरतलब है कि अधिक कमाई के लोभ में अधिकांश बस चालक बस के अंदरुनी भाग समेत बस के छतों पर यात्री को बैठा देते है। जो खतरे से खाली नहीं है। वहीं सूत्रों की माने तो कई बस परमिट का भी खुलकर उल्लंघन कर रहे है। परमिट के अनुसार दूसरे पथ पर आवाजाही करने के बजाए मिलीभगत कर अधिक कमाई वाले पथ पर वाहन का परिचालन कर रहे है। जानकारी दें कि 19 सितंबर को बेनीपट्टी के बसैठ सुंदरपुर में बड़ा बस हादसा हुआ था। जिसमें कई लोग काल के गाल में समा गए थे। उक्त दुर्घटना होने के बाद कुछ दिनों तक प्रशासनिक चहलकदमी हुई, लेकिन कुछ ही समय के बाद प्रशासनिक चौकसी खत्म होकर लापरवाही में तब्दील हो गई। महादलित नेता रामवरण राम, मुखिया अजित पासवान, माकपा नेता पवन भारती, लोजपा के प्रखंड अध्यक्ष सुनील झा समेत कई बुद्धिजीवियों ने प्रशासन से ऐसे बस संचालक पर कड़ी कार्रवाई करने की मांग की है। जो परिवहन विभाग के नियमों के खिलाफ परिचालन कर रहे है।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें