झौझी के महादलितों ने श्रमदान कर बनाया ग्रामीण पथ - BNN News

Breaking

29 May 2018

झौझी के महादलितों ने श्रमदान कर बनाया ग्रामीण पथ

बेनीपट्टी(मधुबनी)। गांव-गांव को पक्की सड़क से जोड़ने की मुहिम चालू होने के बाद भी झौझी के महादलित बस्ती में सड़क के निर्माण नहीं होने से नाराज लोगों ने स्वयं श्रमदान कर बस्ती में जाने के लिए सड़क का निर्माण कर लिया। महादलित बस्ती के लोगों ने प्रशासनिक पदाधिकारी व स्थानीय जनप्रतिनिधियों के कोरे आश्वासन से आजिज होकर सोमवार को स्वयं हाथों में कुदाल व टोकरी लेकर पूरे रास्ते का मिट्टीकरण कर आवाजाही के लिए सड़क का निर्माण कर लिया। इस मुहिम में बस्ती के महिलाएं व बच्चें भी शामिल थे। लोगों ने मिट्टी खरीद कर टोकरी में लेकर दिन-रात मेहनत कर तत्काल आवाजाही योग्य पथ का निर्माण कर दिया है। वहीं तालाब के नीचे कटाव होने के डर से ग्रामीणों ने पूरे पथ को तालाब भाग से बांस की खरपच्ची से घेराबंदी कर दिया है। ताकि, बारिश के समय पथ का मिट्टी कटाव न हो। ग्रामीण सुलोचन राम, जवाहर राम, किशोर राम, योगी पासवान, राजकुमार दास, जोगी राम, देवेन्द्र पासवान, बेचन राम, बिलट पासवान, प्रमोद राम, संजय राम, अरुण दास, सुधीर राम, रोहित राम समेत कई ग्रामीणों ने बताया कि तालाब के किनारे से मुहल्लें में जाने के लिए गड्ढानूमा स्थल होने से लोगों को मुहल्लें में जाने के लिए परेशानी हो रही थी। इस जगह पर सड़क का निर्माण कराने के लिए कई बार प्रखंड विकास पदाधिकारी व स्थानीय जनप्रतिनिधियों के आगे गुहार लगाई गई, लेकिन इस वार्ड में सड़क का निर्माण तो दूर खरंजा का भी निर्माण नहीं कराया गया। बारिश के मौसम में लोगों को घर से निकलना दूभर हो गया था। जिसको देखते हुए सभी लोगों ने श्रमदान कर आवाजाही योग्य सड़का निर्माण कराया है। गौरतलब है कि परौल पंचायत के झौझी गांव के वार्ड न0-12 में करीब दो सौ घर महादलित लोगों का वास स्थल है। लेकिन वर्षो से उक्त मुहल्लें में आवाजाही योग्य सड़क नहीं थी।

No comments:

Post a Comment

फेसबुक पर रेगुलर न्यूज़ अपडेट्स पाने के लिए पेज Like करें व अधिक से अधिक शेयर करें